7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों की हो गई बल्ले-बल्ले, वेतन में सीधे होगा ₹49,420 का इजाफा! खुश करेगी ये खबर

7th Pay Commission latest news: महत्वपूर्ण कर्मियों के लिए एक के बाद एक अच्छी खबर आ रही है।कई उपहार मिल चुके हैं,अब ऐसी सूचना है कि उसके लाभ में तात्कालिक वृद्धि होने वाली है और यह वृद्धि बहुत बड़ी हो सकती है।यही कारण है कि कर्मियों का उपयोग करके नवीनतम अद्यतनों की जांच करने की आवश्यकता है।

7th pay commission Latest Update: महत्वपूर्ण कर्मियों के लिए सही जानकारी है।अब उनकी यह इच्छा पूरी होती नजर आ रही है।लेटेस्ट अपडेट में पता चला है कि उनका फिटमेंट इश्यू डॉक्यूमेंट अब बढ़ता दिख रहा है।वहीं, साल 2023 के खत्म होने पर इसमें फैसला लिया जा सकता है।हालांकि अभी तोहफा मिलने में अभी वक्त है लेकिन मुनाफ़े में बंपर ग्रोथ की कामना है।मुनाफे में यह बढ़ोतरी पहली स्टेज पर हो सकती है और सातवें वेतन आयोग के तहत ही हो सकती है।जिससे प्रमुख कर्मियों को अगला वेतन आयोग आने से पहले भी यह तोहफा मिल सके।

7th Pay Commission

7th pay commission: मिलेगी अच्छी ख़बर, केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी बढ़ेगी, 18000 की जगह होगी 27000 रुपए!

कितना बढ़ सकता है Fitment Factor?

7th Pay Commission: संबंधित कर्मियों का महंगाई भत्ता पहले ही बढ़ाकर 38 प्रतिशत कर दिया गया है।अगले साल इसे दो गुना और बढ़ाया जाना अभी बाकी है।लेकिन, कर्मियों की लंबे समय से यह मांग रही है कि सातवें वेतन आयोग के निर्देशों के अनुसार उनकी फिटमेंट सुविधा को बढ़ाया जाना चाहिए।अब ऐसा करना मुनासिब नजर आ रहा है।पुनर्मूल्यांकन की माने तो सरकार अगले साल भी इस परेशानी को भूल नहीं सकती है और साल 2023 के अंत तक इस पर फैसला हो सकता है।वर्तमान में फिटमेंट फैक्टर के आधार पर संबंधित कर्मियों की न्यूनतम आय 18000 रुपये है।

7th Pay Commission: सरकार द्वारा कर्मचारियों के लिए खोला गया खजाना, सैलरी में होने वाली है बंपर बढ़ोतरी।

फिटमेंट पॉइंट वर्तमान में 2.57 गुना है।

संबंधित कर्मियों की मांग थी कि इसे सातवें वेतन आयोग के तहत 3.68 गुना तक बढ़ाया जाए।यह उनके साधारण राजस्व में भारी उछाल लाएगा।3.68 गुना पर न्यूनतम आय 26,000 रुपए हो सकती है।लेकिन बीच का रास्ता निकालते हुए सरकार इसे कई बार उछाल सकती है।हालांकि इस पर कोई फैसला अगले साल ही लिया जा सकता है।

7th Pay Commission 2022-23 : DA बढ़ने के बाद अब HRA की बारी, सैलरी में आएगा UCHAAL!

Fitment Factor बढ़ने पर सैलरी कितनी बढ़ेगी?

अगर फिटमेंट फैक्टर को एक-दो गुना तक सुधार लिया जाए तो कर्मियों की आमदनी में बंपर उछाल आ सकता है।मान लीजिए कि किसी महत्वपूर्ण कार्यकर्ता की प्राथमिक कमाई 18,000 रुपये है, तो वर्तमान में भत्ते को छोड़कर उसकी कमाई 18,000 X 2.57 = 46,260 रुपये हो सकती है।अगर वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत अधिकतम चार्ज को ध्यान में रखा जाए तो 3.68 गुणा करके कमाई 26000X3.68 = 95,680 रुपए हो सकती है।वहीं, तीन बार फिटमेंट इश्यू होने पर प्राथमिक कमाई 21000 रुपये और भत्तों को छोड़कर पूरी कमाई 21000X3 = 63,000 रुपये हो सकती है।

7th CPC DA News : 18 महीने के बकाया DA Arrear की तारीख हुईं तय, इस दिन खाते में आएंगे  2 लाख रुपए !

फिटमेंट फैक्टर के इस्तेमाल से कमाई कैसे तय की जाती है?

जरूरी कर्मियों की कमाई में फिटमेंट इश्यू की बड़ी भूमिका होती है।सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुसार, कमाई भत्ते के अलावा महत्वपूर्ण कर्मियों की कमाई उनकी प्राथमिक कमाई और फिटमेंट के आधार पर तय की जाती है।यही वह समस्या है जिससे अति आवश्यक कर्मियों की आय डेढ़ गुना से भी अधिक बढ़ जाती है।जैसा कि ऊपर के अनुसार उद्धृत किया गया है

EPF, ग्रेच्युटी भी सैलरी में है शामिल

मुख्य कर्मचारियों की आय में भत्तों के अलावा अन्य योग भी होते हैं।वेतन में मासिक भविष्य निधि और ग्रेच्युटी भी शामिल है।ईपीएफ और ग्रेच्युटी बेसिक सैलरी और डीए से जुड़े होते हैं।एक प्रमुख कर्मचारी के ईपीएफ और ग्रेच्युटी की गणना के लिए एक अलग घटक है।सीटीसी से सभी भत्ते और कटौतियां निष्पादित की जाती हैं, तब प्रमुख कर्मचारी की घरेलू कमाई तय की जाती है।