7th Pay Commission Basic Salary : अब 26000 रूपए होगी कर्मचारियों की न्यूनतम बेसिक सैलरी, देखें डिटेल

7th Pay Commission Basic Salary : केंद्र सरकार (Central Government) बहुत जल्द अपने कर्मचारियों (Employees) के फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) में बढ़ोतरी कर सकती है। सरकार के इस फैसले से कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में वृद्धि हो जाएगी। दरअसल सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 31 फीसदी से बढ़ाकर 34 फीसदी कर दिया है। जिसको देखते हुए अब फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है।

कर्मचारियों को 2.57 गुना मिल रहा है फिटमेंट फैक्टर का लाभ

केंद्र सरकार के कर्मचारियों को फिलहाल में 2.57 गुना फिटमेंट फैक्टर का लाभ मिल रहा है जिसे काफी लंबे समय से बढ़ाकर 3.68 गुना करने की मांग की जा रही है। यदि सरकार की तरफ से ऐसा किया जाता है तो कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 18000 रूपए से बढ़कर सीधे 26000 रूपए तक हो जाएगी। मिली जानकारी के मुताबिक ड्राफ्ट जमा करने के बाद जुलाई महीने के आखिरी समय में इसको लेकर एक बैठक हो सकती है।

7th Pay Commission Basic Salary

जिसके बाद 52 लाख केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में फिटमेंट फैक्टर के अंतर्गत बढ़ोतरी हो सकती है। बताते चलें कि 7वें वेतन आयोग में केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी फिटमेंट फैक्टर के आधार पर निर्धारित की जाती है। बता दें कि जब फिटमेंट फैक्टर बढ़ेगा तब कर्मचारियों की बेसिक सैलरी भी बढ़ेगी। फिलहाल में कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर 2.57 गुना की दर से है। इसी आधार पर न्यूनतम बेसिक सैलरी 18000 रूपए तथा अधिकतम 56900 रूपए निर्धारित की गई है।

26000 रूपए होगी कर्मचारियों की न्यूनतम बेसिक सैलरी

जब फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाकर 3.68 प्रतिशत कर दिया जाएगा तो कर्मचारियों की सैलरी में सीधे 8000 रूपए की बढ़ोतरी हो जाएगी। इसका सीधा मतलब ये हुआ कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों का फिलहाल में न्यूनतम वेतन 18000 रूपए है जब 8000 रूपए बढ़ जाएगा तो ये सीधे 26000 रूपए हो जाएगा। अभी इस मुद्दे पर चर्चा हो रही है।

मान लीजिए कि आपकी न्यूनतम सैलरी 18000 रूपए है तो भत्तों को छोड़कर आपको 2.57 फिटमेंट फैक्टर के मुताबिक 46260 रूपए प्राप्त होंगे। वहीं जब फिटमेंट फैक्टर 3.68 हो जाएगा तब आपकी सैलरी 95680 रूपए हो जाएगी।

Leave a Comment