7th Pay Commission: DA एरियर पर बड़ी खबर, नवंबर में आएगा आपका पैसा! नए लेटर से मिला अपडेट

7th pay commission Latest Update: संभावना है कि नवंबर माह के भीतर कैबिनेट सचिव से समस्या पर चर्चा की जा सकती है।साथ ही, कर्मचारी अपने डीए एरियर का भुगतान करवा सकते हैं।

7th pay commission: प्राथमिक कर्मियों और पेंशनभोगियों के लिए सबसे बड़ी जानकारी सामने आई है।कोविड महामारी की अवधि के लिए रोके गए महंगाई भत्ते और महंगाई उपशमन के 18 माह के बकाया के भुगतान की मांग की जा रही है।इस पर जल्द ही सरकार फैसला ले सकती है।वहीं दूसरी ओर कर्मियों की ओर से लगातार तनाव बना हुआ है।पिछले माह हुई कार्मिक पक्ष की बैठक के बाद लगातार इस समस्या को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है।

7th Pay Commission Update: सरकार ने बदला प्रमोशन का नियम, DA बढ़ाने से ठीक पहले आया नया फरमान?

क्या रहा है अब तक सरकार का रुख इस पर ?

18 अगस्त 2022 को राष्ट्रीय परिषद के सचिव (स्टाफ पक्ष) शिव गोपाल मिश्रा ने कैबिनेट सचिव और राष्ट्रीय परिषद के अध्यक्ष को पत्र भेजा है।पत्र में 1 जनवरी 2020, 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2021 का महंगाई भत्ता और महंगाई उपशमन के बकाए की कीमत की मांग की गई है.अब तो यह अनुमान लगाया जा सकता है कि नवंबर महीने के भीतर इस गिनती पर कैबिनेट सचिव के साथ चर्चा हो सकती है।साथ ही, कर्मचारी अपने डीए एरियर का भुगतान करवा सकते हैं।हालांकि, इस मामले में अभी तक अधिकारियों का उपयोग करने के लिए कुछ भी नहीं कहा गया है।

7th Pay Matrix Latest News 2022: दीवाली तोहफा ! 3 बड़े ऐलान, जानिए पूरी खबर ।

लेटर में क्या रखी गई है नई डिमांड ?

पत्र में कहा गया है कि डीए एरियर (18 माह डीए एरियर) को लेकर अधिकारियों से गहन बातचीत की गई है.साथ ही, राष्ट्रीय परिषद के सचिव और व्यक्ति बकाया की कीमत के तौर-तरीकों के बारे में बोलने के लिए तैयार हैं।18 माह के मंहगाई भत्ते के बकाया के वैध मूल्य पर विचार किया जाना है।क्योंकि, सभी प्रमुख सरकारी कर्मचारी COVID-19 महामारी के दौरान ड्यूटी पर थे और अब COVID-19 महामारी के बाद आर्थिक स्थिति भी बढ़ गई है, इसलिए इस मामले में महत्वपूर्ण कार्रवाई करने के लिए कहा जाता है।महंगाई भत्ते के 18 माह के एरियर की कीमत के लिए निर्देश जारी करना होगा।

EPFO Latest Update: खाताधारकों की चमकी किस्मत, अकाउंट में आएंगे 81,000 रुपये?

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया गया जिक्र

Supreme court: शिव गोपाल मिश्रा ने कैबिनेट सचिव को लिखे पत्र में सुप्रीम कोर्ट के 08 फरवरी 2021 के फैसले का भी हवाला दिया है।सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि आर्थिक संकट के कारण कर्मियों की कमाई और पेंशन को तत्काल रोका जा सकता है, लेकिन स्थिति में सुधार होने पर इसे कर्मियों को लौटाया जाएगा।यह कर्मियों का अधिकार है।भुगतान कानून के अनुसार किया जाना चाहिए।

कर्मचारियों ने निभाई अपनी ड्यूटी पूरी निष्ठा से !

शिव गोपाल मिश्रा के मुताबिक, सरकार को इस बात की पूरी जानकारी है कि सेना, रेलवे, स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास, कृषि और अन्य मंत्रालयों के तहत चल रहे कर्मियों ने कोरोना काल में अपनी ड्यूटी निभाई है.साल 2020 की शुरुआत में केंद्र ने घोषणा की थी कि सरकारी कर्मियों के डीए, डीआर और अन्य संबंधित भत्तों में कोई वृद्धि नहीं होगी।इसके बाद भी कर्मियों ने बिना किसी मांग के काम किया,अब उन्हें भुगतान करना होगा।

क्या रहा है अभी तक का हाल ?

Latest Update: कोरोना काल में रिटायर या मरने वाले कर्मचारियों को हुआ नुकसान महामारी के दौरान सरकारी कर्मियों और पेंशनभोगियों को महंगाई भत्ता और महंगाई उपचार नहीं मिलने से कई तरह की आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ा था.इस दौरान कई प्राथमिक कर्मचारी सेवानिवृत्त हुए और कुछ कर्मियों और पेंशनभोगियों की मृत्यु हो गई।डीए और डीआर की कीमत न होने से ऐसे कर्मियों को काफी नुकसान हुआ है.1 जनवरी, 2020 और 30 जून, 2021 के बीच सेवानिवृत्त हुए कर्मियों के ग्रेच्युटी और अन्य बिलों की भरपाई करना महत्वपूर्ण है।इसमें इन कर्मियों की कोई गलती नहीं थी।आपको बता दें, सरकार ने कर्मियों के ग्यारह प्रतिशत डीए को रोकने के लिए 40,000 करोड़ रुपये जमा किए थे।.

DA Arrear का एकमुश्‍त भुगतान करने की मांग

DA Arrear : केंद्रीय कर्मचारी संघ और कर्मचारी संघों ने 18 माह से लंबित प्रमुख कर्मियों के डीए बकाया के भुगतान को लेकर कई विकल्प दिए थे।ये देय राशि के एकमुश्त मूल्य की रक्षा करते हैं।वहीं, कर्मचारी उद्योग दूसरे तरीकों पर भी बात करने के लिए तैयार हैं।

Indian pension Forum : इंडियन पेंशनर्स फोरम ने प्रधान मंत्री मोदी से प्रधान कर्मियों और पेंशनभोगियों को महंगाई भत्ता और महंगाई उन्मूलन के बकाया का भुगतान करने की अपील की थी।फोरम ने पीएम को लिखे पत्र में समस्या को जल्द से जल्द निपटाने की सलाह दी थी।लेकिन, अब तक केंद्र ने इस संबंध में कोई फैसला नहीं लिया है।यदि डीए बकाया का भुगतान प्रधान सरकार के माध्यम से किया जाता है, तो इससे मौजूदा 48 लाख कर्मियों और 64 लाख से अधिक पेंशनभोगियों को लाभ होगा।.

EPFO Pension 2022 : हर माह मिलेगी पेंशन, भविष्य निधि योजना में, जानिए क्या है पूरी प्रक्रिया