8th CPC Update 2023 : खुशी से झूम उठेंगे केंद्रीय कर्मचारी,क्योंकि 44 परसेंट की रफ्तार से बढ़ जाएगी सैलरी !

8th CPC Update 2023 :- सातवें वेतन आयोग के तहत केंद्रीय कर्मचारियों को लगातार सैलरी मिल रही हैं,ऐसे में अब चर्चा है कि अगले वेतन आयोग में उन्हें बढ़िया सैलरी हाइक मिल सकती है, क्योंकि सरकार के पास अभी वेतन आयोग को लेकर कोई प्रस्ताव पारित नहीं है, लेकिन जल्दी से अमल में लाया जा सकता है.जल्दी इसे अमल में लाया भी जा सकता है। हाल ही में सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाने का काम किया है.खबर को ठीक से समझने के लिए अंत तक आराम से पढ़े !

8th CPC Update 2023

8th CPC Update 2023
8th CPC Update 2023

अब देखिए और केंद्रीय कर्मचारियों की वेतन वृद्धि के लिए सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू है,लेकिन कर्मचारियों का कहना यह है कि, उन्हें सिफारिशों से कम सैलरी मिल रही है, सैलरी कंपनसेशन का फायदा मिल रहा है,लेकिन सिफारिशें जितनी की गई थी, उससे काफी कम अतः अभी न्यूनतम वेतन की सीमा ₹18000 से शुरू है, इसमें फिटमेंट फैक्टर का सबसे बड़ा रोल है, बता दें कि अभी फिटमेंट फैक्टर 2.57 के गुणोत्तर में है, साथ ही साथ सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों में से 3.68 गुना तक रखा गया है, इतना बढ़ता है तो न्यूनतम वेतन ₹18 से बढ़कर ₹26000 के आसपास पहुंच जाएगा, ऐसे में कर्मचारियों के बीच वेतन आयोग को लेकर चर्चा की गई है।8th CPC Update 44% : कर्मचारियों के लिए खुशखबरी ! आठवां वेतन आएगा या नहीं, हो गया कंफर्म, पढ़िए खबर !

सैलरी के नए पैमाने पर बन सकती है बात !

सातवें वेतन आयोग के मौजूदा स्तर की बात करें तो कर्मचारियों की बेसिक सैलरी ₹18000 है सैलरी के लिए फिटमेंट फैक्टर को लागू किया गया था। इसमें हर ग्रेड पर एक जैसा फिटमेंट लागू किया गया। इसका विरोध भी किया लेकिन तय सीमा से देरी होने पर इसे सिफारिशों के अनुकूल लागू कर दिया गया। हालांकि खुद तत्कालीन वित्त मंत्री दिवंगत अरुण जेटली ने भी माना था कि केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी तय करने के लिए कुछ नए पैमानों पर काम करना भी आवश्यक है। बता दे कि फिलहाल फिटमेंट सेंटर के आधार पर ही पुरानी बेसिक पे से रिवाइज्ड बेसिक पर की कैलकुलेशन की जाती है।8th pay commission: 8वें वेतन आयोग में 44% से ज्यादा बढ़ सकती है सैलरी !

क्या आठवां वेतन आयोग सच में आएगा ?

बता दे क्या आठवीं वेतन आयोग को लेकर कई बार चर्चा सुर्खियों में बनी रही है लेकिन यह आएगा या नहीं इसे लेकर काफी कंफ्यूजन की स्थिति हमेशा से बनी रहती है। सरकार ने अभी तक ऐसे किसी भी मामले में कोई जवाब नहीं दिया है। हालांकि अभूतपूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जुलाई 2016 में यह कहा था कि चुकी अब वेतन आयोग से हटकर कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने पर सोचना चाहिए। लंबे वक्त से चले आ रहे पैमाने पर सैलरी तय हो ऐसा बिल्कुल नहीं है। इसलिए वेतन वृद्धि के लिए नया पैमाना होना चाहिए। सूत्रों की मानें तो सरकार अब नया वेतन आयोग लाने के पक्ष में नहीं है और यूनियन का कहना है कि सरकार अगर डीए एरियर फिटमेंट फैक्टर इत्यादि जैसे मुद्दों पर सुनवाई नहीं करती है तो उन्हें 8 वें वेतन आयोग का ऐलान कर देना चाहिए।8th pay commission: 8वें वेतन आयोग में 44% से ज्यादा बढ़ सकती है सैलरी !

₹3000 तक बढ़ सकती है बेसिक सैलेरी !

पेय लेबल मैट्रिक्स 1 से 5 वाले केंद्रीय कर्मचारियों की कम से कम सैलरी 21000 के बीच हो सकती है। वेतन आयोग का ट्रेंड देखे तो हर 8 से 10 साल के बीच इसे लागू किया जाता है, लेकिन इस बार इसे बदलकर साल 2024 में यह फार्मूला लागू किया जा सकता है। सरकारी कर्मचारियों की अगर बात करें तो वेतन में करीब 3 गुना बढ़ोतरी की संभावना है, बताते चले कि सातवें वेतन आयोग में वृद्धि दर सबसे कम तय की गई थी।8th Pay Commission 2022: अब कर्मचारी भूल जाए 8वां वेतन आयोग, अब नए फॉर्मूले पर काम कर रही सरकार

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा, ऐसे ही फाइनेंस से संबंधित ट्रेंडिंग आर्टिकल्स के लिए हमारी वेबसाइट को लगातार विजिट करते रहे, और अपने प्यारे प्यारे प्रश्न कमेंट के जरिए लिखना ना भूलें.धन्यवाद !