Aadhaar Card Update : सरकार ने लोगों को किया अलर्ट, इन जगहों पर न दें आधार कार्ड की फोटो कॉपी

Aadhaar Card Update : वर्तमान में आधार कार्ड (Aadhaar Card) लोगों की जितनी बड़ी पहचान बन चुका है तो इसका उतना ही अधिक दुरूपयोग भी होने लगा है। आधार कार्ड (Aadhaar Card) के माध्यम से भले ही लोगों को अच्छा लाभ मिलने लगा है लेकिन कुछ अराजक तत्वों के कारण आपका पूरा डाटा चंद सेकेंड में लीक भी हो रहा है। इसको देखते हुए सरकार ने देश की जनता के लिए एक एडवाइजरी जारी की है।

हर जगह न दें आधार कार्ड की फोटो कॉपी

इस एडवाइजरी में सरकार की तरफ से यह स्पष्ट रूप से कहा गया है कि देश के नागरिक हर संस्थान के साथ अपने आधार कार्ड की फोटो कॉपी शेयर न करें। सरकार का कहना है कि हर जगह आधार कार्ड की फोटो कॉपी शेयर करने से इसका दुरूपयोग किया जा सकता है। सरकार ने कहा है कि इसके स्थान पर मास्क्ड आधार कार्ड का इस्तेमाल करें।

Aadhaar Card Update

इस आधार कार्ड से आपकी पहचान उजागर होने से बच जाएगी। मास्क्ड आधार कार्ड का उपयोग करने से आपके आधार कार्ड का पूरा नंबर कोई नहीं जान पाएगा।

मास्क्ड आधार कार्ड का करें उपयोग

मास्क्ड आधार कार्ड में सिर्फ आखिरी के 4 अंक ही दिखाई देते हैं। इससे आपके पूरे आधार कार्ड का नंबर किसी को पता नहीं चलेगा जिससे आपके आधार कार्ड का गलत इस्तेमाल नहीं होगा। सरकार ने कहा है कि जिन लोगों को मास्क्ड आधार कार्ड डाउनलोड करना है वो आधिकारिक वेबसाइट https://myaadhaar.uidai.gov.in पर जाकर ये कार्य कर सकते हैं।

एडवाइजरी में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि किसी भी आधार नंबर की वैधता का सत्यापन myaadhaar की वेबसाइट पर जाकर किया जा सकता है। इसके अलावा आधार लेटर, ई-आधार या आधार कार्ड पर दिए गए QR Code को m-Aadhaar मोबाइल ऐप के माध्यम से स्कैन करके ऑफलाइन तरीके से चेक किया जा सकता है। आप चाहें तो इस ऐप को अपने मोबाइल में डाउनलोड कर सकते हैं।

सिर्फ ऐसी संस्था चेक कर सकती है आधार कार्ड

सरकार ने लोगों को आगाह करते हुए कहा है कि सिर्फ वही संस्थान किसी व्यक्ति की पहचान चेक करने के लिए आधार कार्ड का उपयोग कर सकता है जो यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) से इसके लिए लाइसेंस प्राप्त कर चुका हो। वहीं होटल या सिनेमा हॉल जैसी निजी संस्थाओं को किसी भी व्यक्ति के आधार कार्ड की फोटो कॉपी रखने का कोई अधिकार नहीं है।

जारी की गई एडवाइजरी में सरकार की तरफ से यह स्पष्ट रूप से कहा गया है कि यदि किसी निजी संस्था के द्वारा आपके आधार कार्ड की फोटो कॉपी या आधार कार्ड देखने की डिमांड की जाती है तो सबसे पहले आपको ये चेक करना होगा कि उस संस्था को इसके लिए UIDAI से वैध लाइसेंस प्राप्त है या नहीं। यदि ऐसा नहीं है तो उसको आपका आधार कार्ड चेक करने का कोई हक नहीं है।

क्या है मास्क्ड आधार कार्ड

ये एक ऐसा आधार कार्ड होता है जिसमें आम आधार कार्ड की तरह सभी नंबर दिखाई नहीं देते हैं। इस आधार कार्ड में सिर्फ आखिरी के 4 अंक ही दिखाई देते हैं। इस आधार कार्ड में जो पहले के 8 नंबर लिखे होते हैं वो XXXX-XXXX के रूप में होते हैं। जिससे कि सभी लोगों को इस नंबर के बारे में जानकारी नहीं मिल पाती है। यह किसी भी तरह के आधार कार्ड का दुरूपयोग होने से बचाता है।

Leave a Comment