Agnipath Recruitment Scheme : 10वीं पास कर चुके युवाओं को मिलेगा सीधे 12वीं पास का सर्टिफिकेट, जानें कैसे

Agnipath Recruitment Scheme : केंद्र सरकार (Central Government) के द्वारा देश के युवाओं के लिए अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) शुरू की गई है। इस योजना के मुताबिक देश के युवाओं को भारतीय सेना (Indian Army) में नौकरी करने का अवसर दिया जाएगा। खास बात ये है कि युवाओं को महज 4 वर्ष तक ही सेना में नौकरी करने का मौका मिलेगा। 4 वर्ष का समय पूरा होते ही उनको कार्य मुक्त कर दिया जाएगा।

योजना का विरोध कर रहे हैं युवा

देश के विभिन्न राज्यों में युवा सरकार की इस योजना का कड़ा विरोध कर रहे हैं। युवाओं का कहना है कि हमको आर्मी की तैयारी करने में ही 4 वर्ष से अधिक का समय लग जाता है। तो फिर इतनी मेहनत करने के बावजूद हम 4 वर्ष की नौकरी क्यों करें। बताते चलें कि अग्निपथ योजना के विरोध में युवाओं ने विभिन्न राज्यों में तोड़फोड़ शुरू कर दी है। रेलवे स्टेशन से लेकर बीच शहर में जमकर विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

Agnipath Recruitment Scheme

इस घटना में कई पुलिस कर्मी भी घायल हो चुके हैं। इस गर्म माहौल के बीच में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने एक बड़ा ऐलान किया है। जिसमें उन्होंने स्पष्ट रूप से ये कहा है कि कक्षा 10 की परीक्षा पास कर चुके अग्निवीरों को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग (NIOS) की तरफ से कक्षा 12वीं पास करने का सर्टिफिकेट प्रदान किया जाएगा।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने लिया बड़ा निर्णय

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि भारत सरकार इस योजना को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। बता दें कि अग्निपथ योजना के माध्यम से देश के युवा 4 वर्ष तक सशस्त्र बलों के साथ जुड़कर नौकरी करेंगे। इस दौरान उनको विभिन्न प्रकार की जानकारी भी प्रदान की जाएगी। वहीं युवाओं का कहना है कि सरकार छात्रों के भविष्य के साथ खुले तौर पर खिलवाड़ कर रही है। हम लोगों को 15 वर्ष वाली नौकरी मंजूर है लेकिन ये 4 वर्ष का लॉलीपॉप नहीं चाहिए।

युवाओं ने कहा पहले की तरह हो भर्ती

छात्रों का कहना है कि जिस प्रकार से अभी तक भर्ती हो रही थी वही ठीक है। वहीं NIOS के द्वारा छात्रों को सीधे 12वीं पास का सर्टिफिकेट प्रदान किया जाएगा। जो न केवल वर्तमान बल्कि उनके सेवा क्षेत्र के लिए प्रासंगिक है। सबसे दिलचस्प बात तो ये है कि ये प्रमाणपत्र पूरे देश में रोजगार तथा उच्च शिक्षा दोनों उद्देश्यों के लिए मान्यता प्राप्त है।

वहीं NIOS के द्वारा यह कहा गया है कि यह विशेष कार्यक्रम नामांकन, छात्र सहायता, अध्ययन केंद्रों की मान्यता तथा प्रमाणन की सुविधा प्रदान करेगा। फिलहाल कई ऐसे युवा भी हैं जिनको अग्निपथ योजना के विषय में पूरी जानकारी नहीं है। वहीं विगत दिनों शिक्षा मंत्रालय की तरफ से भी यह कहा गया था कि वो रक्षा कर्मियों के लिए कौशल आधारित 3 वर्षीय स्नातक डिग्री कार्यक्रम का शुभारंभ करेगा।

Leave a Comment