Mon. Sep 26th, 2022
Bank Accounts : क्या आपके पास भी हैं कई बैंक अकाउंट्स, हजारों रूपए का होगा नुकसान

Bank Accounts : ऐसा अक्सर देखने को मिलता है कि अधिकतर लोगों के पास एक से ज्यादा बैंक अकाउंट हैं। कई ऐसे अकाउंट भी होते हैं जो खोले तो गए हैं लेकिन उनकी उचित देखभाल नहीं हो पा रही है। ग्राहक कई-कई महीने तक न तो उसमें पैसे जमा करता है और न तो कभी उसे चेक करने की जहमत उठाता है। यानी सीधा फंडा है खाता खुल गया और उसे छोड़ दिया। तो अब इस बात का बेहद ध्यान रखना होगा कि यदि आपके पास एक से अधिक बैंक अकाउंट है तो आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

खाते को मेंटेन करने की समस्या

पहला नुकसान तो यही है कि आपने लापरवाही दिखाते हुए कई सारे अकाउंट्स तो खोल लिए हैं लेकिन आप उसे मेंटेन नहीं कर पा रहे हैं। अब आपके मन में ये प्रश्न उठ रहा होगा कि नहीं मेंटेन कर पा रहे हैं तो कौन सा घर से पैसा जा रहा है और क्या नुकसान है इससे। तो ये जान लीजिए कि प्रत्येक बैंक के अपने नियम होते हैं। जिनको कस्टमर्स को फॉलो करना ही होता है। प्रत्येक बैंक का अपना अलग-अलग मेंटेनेंस चार्ज, SMS चार्ज, मिनिमम बैलेंस चार्ज, डेबिट कार्ड चार्ज होता है।

तगड़ा चार्ज वसूल लेते हैं बैंक

अब आप इस बात से ही अंदाजा लगा लीजिए कि यदि एक बैंक के खाते में इतने सारे चार्ज लगते हैं तो आपने अभी तक कितने बैंकों में और कितने खाते खोल रखे हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि यदि आपके अकाउंट में मिनिमम बैलेंस भी नहीं है तो आप जब भी उस बैंक अकाउंट में अपना पैसा जमा करेंगे वो आपसे तगड़ा चार्ज वसूल कर लेगा। इस तरह से आपको फायदे की जगह नुकसान झेलना पड़ सकता है।

खाते के साथ हो सकती है धोखाधड़ी

टैक्स और इन्वेस्टमेंट एक्सपर्ट का कहना है कि आप सिंगल अकाउंट रखें। इस तरह से आपको रिटर्न फाइल करना बहुत आसान रहेगा। यदि आपके पास कई सारे अकाउंट हैं तो सबका कैलकुलेशन करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। वहीं यदि आपने एक वर्ष तक अपने करंट या सेविंग अकाउंट में किसी भी प्रकार का ट्रांजेक्शन नहीं किया है तो वो अकाउंट Inactive हो जाएगा। वहीं यदि आपने 2 वर्षों तक कोई ट्रांजैक्शन नहीं किया है तो वो अकाउंट Inoperative हो जाता है।

मिली जानकारी के मुताबिक ऐसा होते ही खतरा बढ़ जाता है। क्योंकि ऐसे बैंक अकाउंट के साथ धोखाधड़ी भी हो सकती है। आपके इस लापरवाही की वजह से खाते की पूरी डिटेल एक सेपरेट लेजर में रखी जाती है। अब जरा ध्यान से सोचिए कि एक खाते के साथ इतनी सारी समस्याएं हो सकती हैं तो आपने कितने खाते खोल रखें हैं।

वहीं यदि ये खाते प्राइवेट बैंकों में हैं तब तो आपको हजारों रूपए का नुकसान होगा क्योंकि कुछ ऐसे बैंक भी हैं जिनमें खाते को मेंटेन करने के लिए कम से कम 10000 रूपए तो खाते में होने ही चाहिए। जैसे इन्हीं बैंकों में शामिल है HDFC Bank जिसमें कम से कम 10000 रूपए अकाउंट मेंटेनेंस के लिए होने चाहिए। अब इन सभी बातों से गौर फरमाइए कि आपको कितना ज्यादा नुकसान हो रहा है। इसीलिए हमेशा कोशिश करिए कि एक बैंक अकाउंट हो जिसे आप अच्छी तरह से संभाल सकें।

By Himanshu Rai

Himanshu Rai is a Journalist and content professional with 10+ years of experience.He has worked with Several News Agencies like Inshorts and NTLive.He is Highly Experienced and has Excellent Knowledge of Indian Politics.He Currently working as Editor and Content Management.

Leave a Reply

Your email address will not be published.