Business : इस बिजनेस में महज 1 लाख रूपए खर्च करके हर महीने कमाएं 10 लाख रूपए, देखें डिटेल

Business : मौजूदा हालात को देखते हुए लोग तेजी से बिजनेस (Business) की तरफ भाग रहे हैं। समस्या तब उत्पन्न होती है जब यह सुनिश्चित करना होता है कि ऐसा कौन सा बिजनेस (Business) शुरू किया जाए जिसमें खर्चा कम हो लेकिन आमदनी ज्यादा हो। क्योंकि साधारण तौर पर ऐसा देखा जाता है कि किसी भी बिजनेस (Business) को शुरू करने के लिए आपके पास अच्छी रकम होनी चाहिए।

बिजनेस में अच्छा पैसा कमाने के लिए किसी भी व्यक्ति को अच्छी रकम भी एकत्रित करनी पड़ती है। वहीं कुछ ऐसे बिजनेस भी होते हैं जिनमें खर्चा तो बिल्कुल कम होता है लेकिन आमदनी बहुत अच्छी होती है। आज हम आपको एक ऐसे ही बिजनेस के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें खर्चा सिर्फ 1 लाख रूपए का है लेकिन आमदनी लगभग 10 लाख रूपए महीने की होगी।

अच्छी आमदनी के लिए करें मशरूम की खेती

यदि आप भी किसी ऐसे बिजनेस की तलाश कर रहे हैं तो आप मशरूम की खेती (Mushroom farming) कर सकते हैं। इस बिजनेस में काफी अच्छी आमदनी होती है। ये ऐसा बिजनेस है जो आपको 10 गुना लाभ देता है। सीधे तौर पर कहा जाए तो यही वो बिजनेस है जिसमें खर्चा तो 1 लाख रूपए का है लेकिन आमदनी 10 लाख रूपए तक होती है। दरअसल गौर फरमाया जाए तो ऐसा देखने को मिल रहा है कि मशरूम की डिमांड अब तेजी से बढ़ रही है।

अब सवाल ये है कि मशरूम की खेती आप कैसे करेंगे और किस तरह से आपको अच्छा पैसा मिलेगा। तो आइए समझते चलते हैं कि मशरूम की खेती कैसे की जाती है और आपको इससे कैसे लाभ मिलेगा। नीचे दिए जा रहे निर्देशों को ध्यान से समझते चलिए आपको सभी प्रश्नों का जवाब यहीं मिल जाएगा। सबसे पहले ये जानते हैं कि बाजार में किस प्रकार के मशरूम की मांग सबसे ज्यादा है।

बाजार की डिमांड

बाजार में सबसे ज्यादा बटन मशरूम की डिमांड होती है। चावल या गेहूं के भूसे में कुछ केमिकल मिलाकर कंपोस्ट खाद का निर्माण किया जाता है। कंपोस्ट खाद के तैयार होने में लगभग महीने भर का समय तो आराम से लग जाता है। जब खाद तैयार हो जाती है तो किसी सख्त स्थान पर 6 से 8 इंच मोटी परत बिछाई जाती है। जिसमें मशरूम के बीज लगाए जाते हैं।

40 से 45 दिन में होने लगेगी इनकम

इस प्रक्रिया को स्पॉनिंग कहा जाता है। अब मशरूम के बीज को अच्छी तरह से ढक दिया जाता है। इसके बाद आपको 40 से 45 दिन तक इंतजार करना होता है। जिसके बाद मशरूम काटकर बेचने के लिए पूरी तरह से तैयार हो जाता है। अब आप इसे रोज काटकर बेच सकते हैं। ध्यान रखने वाली बात ये है कि मशरूम की खेती खुले स्थान पर नहीं की जाती है इसके लिए आपको शेड वाली जगह की व्यवस्था करनी होगी।

बाजार का भाव

मशरूम की खेती में किसान 1 लाख रूपए खर्च करके इससे अच्छा लाभ कमा सकते हैं। जैसे 1 किलो मशरूम पर लगभग 25 से 30 रूपए का खर्च होता है। बाजार में मशरूम की कीमत 250 रूपए से लेकर 300 रूपए किलो तक होती है। यदि आप किसी बड़े होटल या बड़े रेस्टोरेंट में इसकी सप्लाई करते हैं तो आपको 500 रूपए प्रति किलो तक इसका दाम मिल सकता है।

खेती करते समय इन बातों का रखें ध्यान

मशरूम की खेती करते समय बहुत सतर्क रहना पड़ता है अर्थात् सीधे तौर पर कहें तो इसकी देखभाल सही ढंग से करनी पड़ती है। मशरूम को 15 से 22 डिग्री सेंटीग्रेट के तापमान पर उगाया जाता है। यदि तापमान ज्यादा हुआ तो आपकी फसल खराब भी हो सकती है। ठीक इसी प्रकार मशरूम की खेती करने के लिए 80 से 90 फीसदी तक नमी होनी चाहिए। वहीं कम्पोस्ट खाद भी सही ढंग से बना होना चाहिए। महत्वपूर्ण बात ये है कि मशरूम की खेती करते समय ज्यादा पुराने बीज का प्रयोग न करें।

Leave a Comment