CG Employees Incentive Update : सैलरी के अलावा अलग से मिलेंगे 30,000 रुपए, जानिए कैसे !

CG Employees Incentive Update :- हेलो दोस्तों ! क्या आपको पता है, केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में अलग से कई फायदे दिए जाते हैं, इनमें से इंसेंटिव का भी प्रावधान है, हम बात कर रहे हैं कर्मचारियों के हित में सरकार के द्वारा उठाए गए मनचाहे पहल की, अब कर्मचारियों को सैलरी के अलावा ₹30000 अतिरिक्त दिए जाएंगे. केंद्र सरकार ने उच्च डिग्री हासिल करने वाले कर्मचारियों के लिए प्रोत्साहन राशि को 5 गुना बढ़ा दिया है। सच्चाई जानने के लिए पढ़िए खबर !

CG Employees Incentive Update

CG Employees Incentive Update
CG Employees Incentive Update

केंद्रीय कर्मचारियों को कई तरह के लाभ मिलते हैं, जैसे कि महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी करके हर साल उनके वेतन को बढ़ाया जाता है, इसके अलावा प्रमोशन और अन्य भक्तों का भी लाभ मिलता है, लेकिन यदि कोई कर्मचारी नौकरी करते हुए उच्च डिग्री अर्जित करता है, तो उसे अलग लाभ दिया जाता है. बता दे कि केंद्र सरकार ने उच्च डिग्री हासिल करने वाले कर्मचारियों के लिए पेंशन राशि का को 5 गुना तक बढ़ा दिया है. पीएचडी जैसी ऊंची डिग्री हासिल करने वाले कर्मचारियों के लिए प्रोत्साहन राशि ₹10000 से बढ़ाकर ₹30000 कर दी गई है।7th pay commission: अब CGHS के तहत निजी अस्पतालों में सातवें वेतन आयोग के हिसाब से वार्डों का आवंटन.

उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए 5 गुना बढ़ाई गई स्कॉलरशिप !

कार्मिक मंत्रालय ने कर्मचारियों को उच्च डिग्री हासिल करने के लिए प्रोत्साहन राशि बढ़ाने को लेकर 20 साल पुराने नियमों में संशोधन किया है, क्योंकि पुराने नियमों के तहत अब तक नौकरी के दौरान उच्च डिग्री हासिल करने वाले कर्मचारियों को ₹2000 से लेकर ₹10000 तक की एकमुश्त प्रोत्साहन राशि दी जाती थी. लेकिन साल 2019 से इस प्रोत्साहन राशि को मिनिमम ₹2000 से बढ़ाकर मैक्सिमम ₹10000 तक कर दिया गया था।CG Employees News 2022-23 :- कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज़ ! अब DA के साथ TA और HRA का भी मिलेगा लाभ!

इन बातों का रखें ध्यान !

कार्मिक मंत्रालय के निर्देश में स्पष्ट किया गया है कि शुद्ध शैक्षणिक शिक्षा या साहित्यिक विषयों में योग्यता प्राप्त करने हेतु कोई प्रोत्साहन नहीं दिया जाएगा, लेकिन कर्मचारी द्वारा अर्जित की गई डिग्री या डिप्लोमा कर्मचारी के पद से संबंधित या उसके अगले पद में किए जाने वाले कार्य से संबंधित होनी चाहिए. ऐसे ही उनके चारित्रिक विकास के भाव भंगिमा को सुचारू ढंग से आगे बढ़ाने के लिए प्रयासरत साबित हो सकता है. यह बदलाव साल 2019 से प्रभावी हैं, भारत जैसे देश में !CGBSE Board Exam 2022 : छत्तीसगढ़ बोर्ड एग्जाम की डेट शीट जारी, ऐसे करें डाउनलोड

ESIC बोर्ड ने दिया ये बयान !

ईएसआईसी बोर्ड के सदस्य हरभजन सिंह ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यह बताया कि सदस्यों ने पहले ही केंद्रीय श्रम मंत्रालय को सीलिंग बढ़ाने का प्रस्ताव पारित करने का जिम्मा दे दिया है, लेकिन इस मेडिकल स्कीम से करो ना काल में कर्मचारियों को खासा फायदा हुआ है.साथ ही वेतन सीमा बढ़ने से देश में 20 से 25 फ़ीसदी कर्मचारी इस दायरे में सिमट जाएंगे जिससे ऐसी बोर्ड की बैठक सितंबर में प्रस्तावित हो सकेगी, इस प्रस्ताव के बाद कर्मचारियों और उनके परिवारों को बेहतर इलाज मिल सकेगा, ऐसे में आपकी क्या है राय ? हमें कमेंट करना ना भूलें !EPFO: नौकरी छोड़ने की तारीख इपीएफ अकाउंट में कर सकते हैं अपडेट, जानिए तरीका।

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा, ऐसे ही फाइनेंस से संबंधित ट्रेंडिंग आर्टिकल के लिए हमारे ब्लॉक पर लगातार विजिट करते रहें, और अपने प्यारे प्यारे कमेंट हमें करना ना भूले. धन्यवाद !