E Shram Card Yojna : ई श्रम कार्ड योजना के ये हैं फायदे, जानें इस योजना का उद्देश्य

E Shram Card Yojna : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार ने असंगठित श्रमिकों का एक राष्ट्रीय डेटाबेस बनाने के लिए ई-श्रम पोर्टल (e-shram portal) विकसित किया, जिसे उनके आधार कार्ड से जोड़ा जाएगा। इसमें नाम, व्यवसाय, पता, शैक्षिक योग्यता, कौशल प्रकार और परिवार के विवरण आदि का विवरण होगा ताकि उनकी रोजगार योग्यता की अधिकतम प्राप्ति हो सके और उन्हें सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के लाभों का विस्तार किया जा सके। यह असंगठित का पहला राष्ट्रीय डेटाबेस है

सीएससी एनडीयूडब्ल्यू ई श्रम कार्ड

श्रम और रोजगार मंत्रालय ने श्रमिकों के कल्याण के लिए ई-श्रम पोर्टल नाम से पोर्टल शुरू किया है। ई श्रम के लिए पंजीकरण करने वाले उम्मीदवारों को एक विशिष्ट पहचान संख्या (UAN) कार्ड मिलेगा। सीएससी एनडीयूडब्ल्यू ई श्रम कार्ड (CSC NDUW E shram Card) ऑनलाइन पंजीकरण के जरिए यूपी, बिहार, एमपी और कर्नाटक के माध्यम से उम्मीदवारों को भविष्य में नौकरी मिल सकती है।

भारत के करोड़ों लोगों को इस योजना का मिल रहा लाभ

ई श्रम कार्ड योजना (E Shram Card Scheme) को लेकर देशभर में तमाम तरह की चर्चाएं चल रही है। भारत के करोड़ों लोग इस योजना का लाभ उठा रहे हैं। ई श्रम कार्ड योजना (E Shram Card Scheme) इस समय एक ऐसी योजना के रूप में उभर रही है जिससे हर कोई जुड़ना चाह रहा है। इस योजना से जुड़ने के ढ़ेरों फायदे नजर आ रहे हैं। ई श्रम कार्ड योजना के तहत कई श्रमिकों को पेंशन का भी लाभ होगा।

श्रम और रोजगार मंत्रालय ने असंगठित क्षेत्रों में श्रमिकों का डेटा एकत्र करने के लिए ई श्रम पोर्टल लॉन्च किया है और नई नीतियां शुरू करने, भविष्य में अधिक नौकरियां पैदा करने और श्रमिकों के लिए नई योजनाएं शुरू करने के लिए एनडीयूडब्ल्यू डेटाबेस (NDUW Database) का उपयोग किया जाएगा। आप ई श्रम पोर्टल 2021 (E Shram Portal 2021) की आधिकारिक वेबसाइट, लाभ, आवश्यक दस्तावेज को इस लेख के माध्यम से जान सकते हैं।

ई श्रम कार्ड योजना के फायदे

भारत सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र के कामगारों की जानकारी एकत्र करना और सभी मजदूरों के डेटाबेस को एक स्थान पर एकत्रित कर इस पोर्टल के अंतर्गत आने वाले श्रमिक जैसे निर्माण श्रमिक, प्रवासी श्रमिक, प्लेटफार्म कलाकार, रेहड़ी-पटरी वाले, घरेलू कामगार, कृषि कामगार और अन्य संगठित कामगार। ऐसे लोग जिन्हें किसी योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। देश भर में क्या योजना आई और क्या गई इस ई श्रम कार्ड के जरिए जान सकते हैं। इस ई श्रम कार्ड के जरिए किसी भी मजदूर को सीधे योजनाओं का लाभ मिल सकेगा और सरकार भी अलग-अलग कदम उठाएगी।

ई श्रम पोर्टल का उद्देश्य

इस ई श्रम योजना की शुरुआत पीएम नरेंद्र मोदी ने असंगठित क्षेत्र के कामगारों और मजदूरों के लिए की है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के कामगारों और मजदूरों के लिए है। श्रम और रोजगार मंत्रालय ने हाल ही में पूरे भारत में गैर-मान्यता प्राप्त क्षेत्र के श्रमिकों और श्रमिकों के बारे में पूरी जानकारी एकत्र की है। आप इस यूएएन कार्ड का उपयोग जीवन भर कर सकते हैं।

Leave a Comment