Employee Pension Scheme-95 : आंदोलन की चेतावनी ! पेंशनर्स की सरकार से मांग, पढ़िए पूरा मामला !

Employee Pension Scheme-95 :- कर्मचारी पेंशन योजना 1995 यानी eps-95 सेवानिवृति कोष निकाय कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की तरफ से संचालित की जाती है। इसके तहत 6 करोड़ से अधिक शेयर होल्डर्स और 7500000 पेंशनभोगी लाभार्थी आते हैं। ऐसे में 20 दिसंबर eps-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति ने न्यूनतम मासिक पेंशन को ₹1000 के मौजूदा स्तर से बढ़ाकर ₹75 करने के लिए श्रम मंत्रालय को 15 दिन का नोटिस जारी किया है,ऐसे में समिति की मांग पूरी नहीं होने पर देशव्यापी आंदोलन की चेतावनी दी है, कर्मचारी पेंशन योजना 1995 यानी eps-95 सेवानिवृत्ति कोष निकाय कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की तरफ से संचालित की जाती है। ऐसे में आज की खबर में आपके लिए क्या है खास आइए जाने।

Employee Pension Scheme-95

Eps-95 राष्ट्रीय संघर्ष समिति ने न्यूनतम मासिक पेंशन को ₹1000 के मौजूदा स्तर से बढ़ाकर ₹7000 करने की चेतावनी जारी की है, बता दे कि समिति ने श्रम मंत्रालय को 15 दिन का नोटिस दिया है,समिति ने यह भी कहा है कि अगर मांग पूरी नहीं हुई तो देशव्यापी आंदोलन का सिलसिला चल पड़ेगा.ऐसे में अब जानने के लिए आप उत्सुक होंगे,कि यह क्या है इपीएस 95, तो बता दे दोस्तों के कर्मचारी पेंशन योजना 1995 यानी कि ईपीएस 95 सेवानिवृत्त कोष निकाय कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की तरफ से संचालित की जाती है, इसके तहत छ करोड़ से अधिक शेयर होल्डर 75 लाख लाभार्थी आते हैं।EPFO Update: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के सब्सक्राइबर्स को जल्द मिलेगी खुशखबरी, खाते में आएंगे 40 हजार रुपए।

क्या कहा केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने ?

केंद्र श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव को सोमवार को लिखे पत्र में संघर्ष समिति ने इस बात की कवायद जारी की है, कि eps-95 पेंशन भोगियों की पेंशन राशि बहुत ही कम है, साथ ही साथ चिकित्सा सुविधाएं भी सीमित है, इस वजह से पेंशन भोगियों की मृत्यु दर बढ़ रही है।पत्र में यह भी कहा गया है कि यदि इस पेंशन राशि में 15 दिन के अंदर बढ़ोतरी की घोषणा नहीं की गई तो देशव्यापी आंदोलन का सिलसिला चल पड़ेगा इसके तहत रेल और सड़क परिवहन को रोकना और सामूहिक आमरण अनशन जैसे कदम उठाने की चेतावनी दी गई है।Divyang Pension Scheme 2023 : लाखों पेंशन भोगियों को फायदा ! अब खाते में आएंगे ₹4500, पढ़िए खबर !

समिति की तरफ से नियमित अंतराल पर घोषित महंगाई भत्ते के साथ न्यूनतम पेंशन को ₹1000 से बढ़ाकर ₹7500 करने की मांग अर्जित की गई है.इसी के साथ समिति ने उच्चतम न्यायालय के 4 अक्टूबर 2016 और 4 नवंबर 2022 के फैसले के अनुरूप वास्तविक वेतन पर पेंशन भुगतान की मांग भी की थी।

पेंशनर्स की क्या है असल डिमांड ?

समिति की तरफ से नियमित अंतराल पर घोषित महंगाई भत्ते के साथ न्यूनतम पेंशन को ₹1000 से बढ़ाकर ₹7500 करने की मांग को स्वीकृत किया है,इसके साथ ही समिति ने उच्चतम न्यायालय के 4 अक्टूबर 2016 और 4 नवंबर 2022 के फैसले के अनुरूप वास्तविक वेतन पर पेंशन भुगतान की मांग भी की है।EPFO News: ईपीएफओ सब्सक्राइबर्स की बढ़ेगी Pension! सरकार ने दिया बड़ा बयान.

अगर यह प्रक्रिया संपन्न नहीं हुई, तो पत्र में यह भी कहा गया है, कि अगर पेंशन राशि में 15 दिन के अंदर बढ़ोतरी की घोषणा नहीं की गई, तो ऐसी परिस्थिति में देशव्यापी आंदोलन का सिलसिला चल पड़ेगा, आंदोलन के तहत रेल और सड़क परिवहन को रोकना साथ ही साथ सामूहिक आमरण अनशन जैसे कदम उठाने की चेतावनी दी गई है।EPS Pension Scheme Big Update: कई गुना हुई EPS Pension – 33+2= 35/70×50,000 से बढ़त।

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा, ऐसे ही फाइनेंस से संबंधित ट्रेंडिंग आर्टिकल्स के लिए हमारी वेबसाइट को लगातार विजिट करते रहें और अपने प्यारे प्यारे प्रश्न हमें कमेंट के जरिए लिखना ना भूलें.धन्यवाद !