Employees Pension Scheme : जबरदस्त बढ़ने वाली है EPS पेंशन, प्राइवेट नौकरी करने वालों की होगी बल्ले-बल्ले

Employees Pension Scheme : अब प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारियों को बहुत जल्द बड़ी खुशखबरी मिलने वाली है। बताते चलें कि कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) में कंट्रीब्यूशन करने वाले कर्मचारियों (Employees) के पेंशन (Pension) में जबरदस्त बढ़ोतरी हो सकती है। इसको लेकर EPFO बोर्ड बहुत जल्द फैसला कर सकता है।

पेंशन में होने वाली है बंपर वृद्धि

ऐसी आशंका जताई जा रही है कि कर्मचारी पेंशन योजना-95 के अंतर्गत पेंशन में जबरदस्त बढ़ोतरी की जा सकती है। बता दें कि कर्मचारियों की पेंशन योजना में Maximum Pension 15000 रूपए पर निर्धारित की जाती है। इसका सीधा मतलब ये हुआ कि यदि आपकी बेसिक सैलरी 15000 रूपए महीने से अधिक भी है तो आपके पेंशन का कैलकुलेशन अधिकतम 15000 रूपए पर ही निर्धारित किया जाएगा।

Pension Scheme 2022:खाते में आएगी इतनी पेंशन, हजारों पेंशनरों के लिए नई अपडेट जानिए यहां

पेंशन में 300 प्रतिशत की वृद्धि संभव

मिली जानकारी के मुताबिक यूनियन की तरफ से लगातार मांग की जा रही है कि पेंशन पर लगी कैंपिंग को समाप्त कर दिया जाए। मान लीजिए कि यदि फैसला कर्मचारियों के पाले में सुनाया जाता है तो पेंशन का कैलकुलेशन कर्मचारी की आखिरी सैलरी के हिसाब से किया जाएगा। बताया जा रहा है कि कर्मचारियों के पेंशन में 300 प्रतिशत की वृद्धि संभव हो सकती है।

Employee pension scheme: इस फॉर्मूले से समझें- 30,000 X 30/70 = ₹12,857 हो सकती हैं, जानने के लिए पढ़े

योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक शर्तें

Employee Pension Scheme का लाभ लेने के लिए कर्मचारी को 10 वर्षों तक कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) में अपना योगदान करना जरूरी है। वहीं जब आप 20 वर्षों की नौकरी पूरी कर लेते हैं तो आपको 2 वर्ष का वेटेज भी मिलता है। बताते चलें कि सुप्रीम कोर्ट के पास पेंशन की सीलिंग का मामला अभी लंबित चल रहा है। सीलिंग हटने के बाद एक बड़ा फर्क दिखाई देने लगेगा।

EPF Tax Deduction : जानिए आपके पीएफ खाते में पड़े पैसे पर कैसे कटेगा TDS

ऐसे होगा कैलकुलेशन

फिलहाल में जो नियम बनाए गए हैं उनके अनुसार मान लीजिए कि यदि कोई कर्मचारी 1 जून 2015 से कहीं पर नौकरी कर रहा है और वो 14 वर्ष की नौकरी पूरी कर लेता है। अब जैसा कि नौकरी के बाद सभी की इच्छा होती है कि उसे पेंशन के रूप में पैसे प्राप्त होते रहें जिससे कि उसका काम चलता रहे।

EPFO e-nomination 2022:-खुसखबरी..!, सिर्फ EPF अकाउंट और फ्री में मिलेंगे 7 लाख,बशर्ते किया हो ये काम

तो मान लीजिए कि 14 वर्षों तक नौकरी करने के बाद उस कर्मचारी की भी इच्छा होती है कि वो पेंशन ले तो उसके पेंशन की गणना 15000 रूपए पर ही की जाएगी। भले ही वह कर्मचारी 20000 रूपए बेसिक सैलरी पा रहा हो या फिर 30000 रूपए। पुराने नियमों के अनुसार कर्मचारी को 14 वर्ष पूर्ण होने के बाद 2 जून 2030 से लगभग 3000 रूपए तक पेंशन दी जाएगी।

पेंशन की गणना के लिए सर्विस हिस्ट्री × 15000/70 के फार्मूले का इस्तेमाल किया जाएगा। इसी प्रकार मान लीजिए कि किसी कर्मचारी की सैलरी (Basic Salary + DA) 20000 रूपए है। यदि पेंशन के नियमों से इसकी गणना की जाती है तो उसकी पेंशन इस हिसाब से 4000 रूपए बनेगी।