EPF Interest Rate 2022 : फायदे की बात जाने यहां, कैसे आएगा ब्याज का पैसा ? पूरी जानकारी मिलेगी यहां

EPF Interest Calculation : ब्याज की गणना हर महीने ईपीएफ खाते में जमा की गई महीने-दर-महीने की स्थिरता के आधार पर की जाती है।लेकिन, यह वर्ष के अंत में जमा किया गया पैसा है। भविष्य निधि खाते में ब्याज जल्दी जमा होना शुरू हो जाएगा।कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) खाताधारकों के खाते में सरकार पैसा डालेगी।आपके पीएफ में जमा राशि पर ब्याज शुल्क तय है। शेष आर्थिक वर्ष के लिए खाताधारकों को उनकी जमा राशि पर 8.1% ब्याज मिलता है।हालांकि, EPFO ने अब यह नहीं बताया है कि ब्याज कैश कब तक जमा किया जा सकता है।संभावना जताई जा रही है कि अक्टूबर तक सभी खाताधारकों के खाते में पैसा आ जाएगा।लेकिन, क्या आप जानते हैं कि ईपीएफ खाते के भीतर ईपीएफ ब्याज की गणना कैसे की जाती है? यह जानकारी लेने के लिए इस लेख को पूरा पढ़े

EPFO:पुरानी पेंशन ब्रेकिंग, हजारों एलबी संवर्ग के शिक्षकों को नहीं मिलेगा पुरानी पेंशन का लाभ, देखें आदेश

EPF Interest Rate

कैसे पता करें कितना आएगा पैसा?

EPFO: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने आर्थिक वर्ष 2021-22 के लिए ब्याज चार्ज 8.1 प्रतिशत पर स्थिर रखा है।ब्याज का कैश क्रेडिट करने की प्रक्रिया सितंबर से शुरू होगी।अक्टूबर के अंत तक बकाया सभी धन में पैसा जमा किया जा सकता है।हालांकि, ईपीएफओ ने अब इसके लिए कोई कट-ऑफ तारीख नहीं दी है।लेकिन, अगर पुनर्मूल्यांकन पर विश्वास किया जाए, तो प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है।

EPFO 2022: बिजनेस करने वाले लोगों को भी मिलेगी पेंशन, जानिए बड़ी खबर


कितना आएगा खाते में पैसा ?

Interest Money: आपका खाते में कितना कैश उपलब्ध होगा यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके खाते के लिए कितना जमा है।आर्थिक वर्ष में जमा की गई राशि को 8.1 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलता है।अगर आपके खाते के लिए आपके EPF खाते में डेढ़ लाख रुपये जमा किए जाते हैं, तो 8.1 प्रतिशत के शुल्क पर ब्याज आपके खाते में सालाना के हिसाब से 12, 150 रुपये आ जाएगा।

EPFO 2022: आपके प्रॉविडेंट फंड खाते में जल्द आएंगे 81,000 रुपये, यहां जानें पूरा कैलकुलेशन

जानिए यहां, कैसे होती है EPF पर ब्याज की कैलकुलेशन?

EPF Calculation: ब्याज की गणना हर महीने ईपीएफ खाते में जमा की गई महीने-दर-महीने चलने की स्थिरता के आधार पर की जाती है।लेकिन, यह 12 महीनों की समाप्ति पर जमा किया गया मील है।ईपीएफओ की गाइडलाइंस के मुताबिक अगर मौजूदा आर्थिक वर्ष की आखिरी तारीख को 12 महीने में कोई रकम स्टेबिलिटी नंबर से निकाली जाती है तो उस पर 365 दिन का ब्याज कट जाता है।ईपीएफओ आमतौर पर खाते के आउटलेट और अंतिम स्थिरता को लेता है।इसकी गणना करने के लिए, महीने-दर-महीने चलने की स्थिरता लाई जाती है और ब्याज शुल्क / 1200 का उपयोग करके बढ़ाया जाता है।

महत्त्वपूर्ण बात क्या है?

आमतौर पर ईपीएफ खाताधारक यह मान लेते हैं कि प्रॉविडेंट फंड में जमा किए गए पूरे पैसे पर ब्याज मिलता है।
लेकिन,अब शायद ऐसा न हो.पीएफ खाते के भीतर पेंशन फंड में जाने वाली राशि पर हमेशा कोई ब्याज गणना नहीं होती है।

आपके EPF के पैसे कहां निवेश किए गए हैं?

EPF Money Investment: ईपीएफ ग्राहकों के खाते में जमा की गई राशि को कई जगहों पर निवेश किया जाता है।
यह निवेश ईपीएफओ के उपयोग के उपयोगी संसाधन के साथ तय किया गया है।इस निवेश से अर्जित आय का उपयोग ब्याज भुगतान के लिए किया जाता है।EPFO ने डेट ऑप्शन में 85 फीसदी निवेश किया है.इनमें सरकारी प्रतिभूतियां और बांड शामिल हैं।आखिरी 15% ईटीएफ में निवेश किया जाता है।ईपीएफ पर ब्याज डेट और इक्विटी से कमाई के आइडिया पर तय होता है।

EPFO Pension: हर महीने मिलेगी पेंशन, कर्मचारी भविष्य निधि योजना में करें ऑनलाइन आवेदन

ऐसे चेक करें अपने पीएफ अकाउंट का बैलेंस

  • ईपीएफओ की इंटरनेट साइट पर जाएं।
  • \’हमारी सेवाएं\’ के ड्रॉपडाउन से \’कर्मचारियों के लिए\’ चुनें।
  • यहां मेंबर पासबुक पर क्लिक करें।
  • यूएएन मात्रा और पासवर्ड के साथ लॉगिन करें।
  • पीएफ खाता चुनें और स्थिरता का परीक्षण करें।
  • इसके अलावा एसएमएस के जरिए भी स्टेबिलिटी चेक की जा सकती है।
  • इसके लिए 7738299899 के बिना टोल नंबर पर \’EPFOHO UAN ENG\‘ टाइप करके मैसेज भेजें।
  • उत्तर के भीतर शेष तथ्य देखे जा सकते हैं।
  • उमंग ऐप से भी EPF स्टेबिलिटी चेक की जा सकती है।