EPF Tax Deduction : पीएफ खाताधारकों के लिए आई बड़ी खबर, अकाउंट में जमा बैलेंस पर ऐसे कटेगा टैक्स

EPF Tax Deduction : पीएफ खाताधारकों के लिए एक बड़ी खबर सामने आई है। जो लोग पीएफ अकाउंट का अधिक इस्तेमाल करते हैं उनके लिए ये खबर और भी अधिक महत्वपूर्ण है। क्योंकि EPF Account को लेकर कुछ नियमों में परिवर्तन किया गया है। जिसको समझना बहुत ज्यादा जरूरी है। क्योंकि अब EPF के पैसे पर टैक्स (Tax) का नया फार्मूला आ गया है।

खाते में जमा पैसे पर मिलने वाले ब्याज पर कटेगा टैक्स

EPF अकाउंट में डिपॉजिट 2.5 लाख रूपए से अधिक पैसे पर मिलने वाला ब्याज अब टैक्सेबल हो जाएगा। मिली जानकारी के मुताबिक अब 1 अप्रैल 2022 से PF Account पर नया नियम नोटिफाई हो गया है। यानि कि 1 अप्रैल 2022 से आपके EPF Account में जमा किए गए पैसे पर जो ब्याज प्राप्त होगा उस पर Tax लगेगा।

EPF Calculation 2022 : मिलेगा 1.48 करोड़ रुपये का रिटायरमेंट फंड,जानें किस किस का आएगा नंबर

कैसे की जाएगी गणना

सवाल ये है कि इसकी गणना कैसे की जाएगी और इसका कितना प्रभाव पड़ेगा। सरकार ने प्रोविडेंट फंड अकाउंट का अधिक लाभ लेने वालों को ध्यान में रखकर यह कदम उठाया है। वहीं अब फाइनेंस एक्ट 2021 में नया प्रावधान जोड़ दिया गय़ा है।

EPFO News 2022:अब मिनटों में अपने खाते में ट्रांसफर करें अपनी पुरानी कंपनी का पीएफ, चेक करें तरीका

2.5 लाख रूपए से अधिक जमा होने पर ऐसे कटेगा टैक्स

यदि कोई कर्मचारी पीएफ अकाउंट में एक वित्त वर्ष में 2.5 लाख रूपए से ज्यादा कंट्रीब्यूशन करता है तो 2.5 लाख रूपए से ऊपर डिपॉजिट होने पर मिले ब्याज पर टैक्स चुकाना पड़ेगा। जैसे आपके अकाउंट में यदि 3 लाख रूपए है तो आपको अतिरिक्त 50000 रूपए पर मिले ब्याज पर टैक्स लगेगा।

EPFO Alert 2022: बड़ी ख़बर! अब पीएफ कर्मचारियों के खाते में इस दिन आएंगे 81,000 रुपये, नोट कर लीजिए तारीख

खोले जाएंगे 2 अकाउंट

बताते चलें कि नए नियमों के अनुसार प्रोविडेंट फंड में 2 अकाउंट खोले जाएंगे। जिसमें पहला अकाउंट टैक्सेबल होगा जबकि दूसरा अकाउंट नॉन टैक्सेबल होगा। CBDT ने इसके लिए रूल 9D को नोटिफाई कर दिया है। जिसमें कि प्रोविडेंट फंड कंट्रीब्यूशन पर मिले ब्याज पर टैक्स की गणना होगी। नए नियम 9D से यह जानकारी मिलती है कि टैक्स की गणना कैसे की जाएगी।

PF Account : पीएफ का पैसा निकालने के लिए अपनाएं ये आसान तरीका, चंद घंटों में खाते में आ जाएगा पैसा

एक साथ कैसे मैनेज होंगे दोनों अकाउंट

इतना ही नहीं बल्कि ये भी पता चलता है कि 2 अकाउंट को एक साथ किस तरह से मैनेज करना होगा तथा कंपनियों को इसके लिए क्या करना पड़ेगा। मान लीजिए कि किसी कर्मचारी के EPF अकाउंट में 5 लाख रूपए जमा है तो नए नियम के अंतर्गत 31 मार्च 2022 तक जमा किया गया पैसा बिना टैक्स वाले अकाउंट में जमा किया जाएगा।

इसका सीधा मतलब ये हुआ कि इस पैसे पर कोई टैक्स नहीं लगाया जाएगा। इसी प्रकार वर्तमान में किसी कर्मचारी के EPF अकाउंट में 2.50 लाख रूपए से ज्यादा पैसा जमा किया जाता है तो अतिरिक्त राशि पर जो ब्याज मिलेगा वो टैक्स के अंतर्गत आएगा। यानि कि बाकी पैसा टैक्सेबल अकाउंट में जमा किया जाएगा तथा इस पर टैक्स लगेगा।