EPFO 2022: बिजनेस करने वाले लोगों को भी मिलेगी पेंशन, जानिए बड़ी खबर

EPFO 2022: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) कर्मियों और स्वयं करने वाले उद्यम मनुष्यों के लिए योजना बना रहा है|ईपीएफओ इसके जरिए ऐसे लोगों तक पहुंचना चाहता है कर्मचारी पेंशन योजना ई-नामांकन कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) लगातार अपने नियमों में ढील दे रहा है। धीरे-धीरे सारा ऑनलाइन हो गया है।डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत भविष्य निधि खाताधारक कई केंद्र बनते जा रहे हैं। EPFO ने घर बैठे खाताधारकों की सुविधा के लिए ई-नॉमिनेशन की शुरुआत की है| इस सेवा के माध्यम से कोई सदस्य अपने परिवार के सदस्य को नेट पोर्टल पर नामांकित कर सकता है।

ई-नामांकन (E-Nomination) में कौन घोषणा कर सकता है?

E-Nomination 2022: नामित कर्मचारी की मृत्यु होने पर घर बैठे परिवार का कोई भी सदस्य ई-नामांकन भरकर भविष्य निधि, पेंशन (ईपीएस-पेंशन) (EPF Pension) और ईडीएलआई कवरेज योजना का लाभ ले सकता है। ईपीएफओ भविष्य निधि आयुक्त-2 सुशांत कंडवाल के अनुसार, कर्मचारी भविष्य निधि योजना (ईपीएफ) और कर्मचारी पेंशन योजना (ईपीएस) के प्रत्येक सदस्य को नामांकन भरने की जरूरत है।इसके बाद नॉमिनी उपरोक्त सभी योजनाओं में घोषणा कर सकता है।

EPFO 2022

EPFO 2022: आपके प्रॉविडेंट फंड खाते में जल्द आएंगे 81,000 रुपये, यहां जानें पूरा कैलकुलेशन

EPF, EPS, Free insurance के लाभ

Employees Pension Scheme: नॉमिनेशन को पहले के मुकाबले काफी कम मुश्किल बना दिया गया है।नामांकन में, रिश्तेदारों के अपने मंडली के प्रतिभागियों को शामिल किया जाता है जिसमें माता-पिता, पति या पत्नी, भाई-बहन या परिवार के कुछ अन्य पात्र सदस्य शामिल होते हैं।नॉमिनी की कॉल और जानकारी होने से कर्मचारी की मृत्यु की स्थिति में भविष्य निधि नकद (पीएफ), पेंशन नकद (ईपीएस फंड) (EPF Fund) या ईडीएलआई बीमा राशि लेना आसान हो जाता है।आपको बता दें, ईपीएफओ से मिलने वाली कवरेज में अधिकतम 7 लाख रुपये तक की सीमा हो सकती है।

EPFO Pension: हर महीने मिलेगी पेंशन, कर्मचारी भविष्य निधि योजना में करें ऑनलाइन आवेदन

नामांकन के बाद सबसे प्रभावी तरीके से निपटाया जा सकता है दावा

कांडपाल के मुताबिक पहले नामांकन के लिए कर्मचारी को फॉर्म-2 को कड़ी कॉपी में भरकर ईपीएफओ कार्यालय में पोस्ट करना था।लेकिन, डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत, अब खाताधारक सदस्य ई-सेवा पोर्टल पर घर बैठे परिवार के सदस्य के ई-नामांकन का दस्तावेजीकरण कर सकता है।

पेंशन और डेथ स्टेटमेंट सेटलमेंट के लिए ई-नॉमिनेशन जरूरी है।इस संबंध में ईपीएफओ के माध्यम से एक राउंड भी जारी किया गया है।अब तक 8.50 लाख भविष्य निधि खातों में से सर्वाधिक प्रभावी 28 हजार खाताधारकों ने ई-नॉमिनेशन पूरा कर लिया है।

EPFO पेंशनर्स के लिए खुशखबरी 2022: अब पूरे साल में कभी भी कर सकते हैं यह जरूरी काम

ई-नॉमिनेशन के क्या फायदे हैं( Benefits of E-nomination)

Benefits of E-nomination: ईपीएफओ के दफ्तर जाने की समस्या खत्म हो गई है। अधिक से अधिक दस्तावेज़ीकरण की आवश्यकता को समाप्त करता है। परिवार के एक से अधिक सदस्य को नॉमिनी बनाया जा सकता है। उन्हें उतनी ही राशि मिलती है। नामांकित व्यक्ति को किसी भी समय संशोधित किया जा सकता है। नया सदस्य अपलोड कर सकते हैं। कर्मचारी की मृत्यु के बाद नामांकित व्यक्ति ई-नामांकन के माध्यम से ऑनलाइन घोषणा कर सकता है।

EPFO : त्यौहारी सीजन में सरकार देने जा रही है बड़ी खुशखबरी, आपके पीएफ खाते में आने वाले हैं 81000 रूपए

ई-नामांकन की रिपोर्ट कैसे करें? ( How to Report on E- Registration)

  • सदस्य ई-सेवा पोर्टल www.unifiedportal-mem-epfindia.gov.in पर जाएं।
  • UAN और पासवर्ड के उपयोग से लॉग इन करें।
  • प्रोफ़ाइल देखें के विकल्प के भीतर पासपोर्ट लंबाई का चित्र अपलोड करें।
  • मैनेज फेज में जाएं और ई-नॉमिनेशन पर क्लिक करें।
  • नामांकित व्यक्ति का नाम, आधार संख्या, फोटो, जन्म तिथि, बैंक खाता संख्या दर्ज करें।
  • अगले पेज पर, ई-साइन पर क्लिक करें और आधार के माध्यम से ओटीपी जनरेट करें।
  • आधार से जुड़े मोबाइल पर आए ओटीपी को दर्ज करें।
  • आपका ई-नामांकन दायर किया जा सकता है।