EPFO Monthly Pension 23 : बड़े काम की है eps 95 स्कीम, क्योंकि हर महीने मिलेंगे 3000 रुपए,पढ़िए खबर !

EPFO Monthly Pension 23 :- निधि संगठन की ओर से अपनी मासिक आय के बावजूद संगठित और असंगठित दोनों क्षेत्र के श्रमिकों के लिए पेंशन योजना का विस्तार कर रहा है,चुकी आज की हमारी चर्चा eps-95 स्कीम जो 16 नवंबर 1995 से समाज की एक कड़ी बनी हुई है, हालाकि यह स्कीम उन कंपनियों या उन प्राधिकरण के सभी कर्मचारियों पर लागू होती है, जिन पर कर्मचारी भविष्य निधि साथ ही साथ विविध प्रावधान अधिनियम 1952 लागू होता है.ऐसे में आज की खबर में आपके लिए क्या है खास आइए जाने !

EPFO Monthly Pension 23

अगर आप कहीं नौकरी करते हैं सरकारी हो या प्राइवेट तो आप ईपीएफ अकाउंट होल्डर तो होंगे ही ऐसे में आपको ईपीएफओ की eps-95 स्कीम के बारे में कुछ काम की बातें जान लेनी चाहिए बहरहाल केंद्र सरकार द्वारा अपने कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम 1952 की धारा छवि के तहत कर्मचारी पेंशन योजना 1995 में शुरू की गई थी,EPFO Alert: करोड़ों नौकरीपेशा के ल‍िए EPF की चेतावनी, नजरअंदाज करने वालों को पड़ जाएगी भारी।

ऐसे में ईपीएफओ की तरफ से यह स्कीम 16 नवंबर 1995 से प्रभाव में आ सकी, इस स्कीम का प्रभाव उस कंपनियों या प्रतिष्ठानों पर है जिन पर कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम 1952 दोनों एक साथ लागू होता है, ऐसे में ईपीएस की एक नई पहल जिसके तहत 1 सितंबर 2014 से ₹1000 की मिनिमम पेंशन की सुविधा शुरू की गई।EPFO Monthly Pension Update 2023 : दिहाड़ी मजदूरों की जल्द ही चमकेगी किस्मत ! क्योंकि खाते में हर महीने पहुंचेंगे ₹3000 !

EPS 95 के लिए क्या है एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया !

अगर आपको अगर आपको इस स्कीम का बेनिफिट लेना है,तो सबसे पहले शर्त यह है कि आपको ईपीएफओ सब्सक्राइबर होना पड़ेगा, चुकी किसी भी ईपीएफओ सब्सक्राइबर अर्थात मेंबर की सैलरी से हर एक महीने अमाउंट ईपीएफ खाते में जमा किया जाता है, जिसमें से 8.33% के लिहाज से पेंशन मद में चली जाती है, साथ ही साथ eps-95 पेंशन स्कीम के जरिए पेंशन पाने वाले कर्मियों को न्यूनतम 10 साल की लगातार सेवा पूरी करनी होगी, अब देखा जाए तो इस स्कीम के दायरे में रिटायरमेंट की उम्र 58 साल निर्धारित की गई है, अतः ईपीएफ मेंबर 50 साल की उम्र के पहले भी अपने इपीएस की रकम निकाल सकते हैं !EPFO News: ईपीएफओ सब्सक्राइबर्स की बढ़ेगी Pension! सरकार ने दिया बड़ा बयान.

Eps-95 स्कीम के तहत मिलते हैं निम्न फायदे !

अगर किसी कर्मचारी की मृत्यु की स्थिति बनती है, ऐसे में मेंबर के परिवार का सदस्य पेंशन पाने का अधिकारी हो जाता है. क्योंकि मौत के समय तक अगर कर्मचारी मेंबर था, तो इस परिस्थिति में परिवार वालों को मैक्सिमम ₹600000 तक का बेनिफिट दिया जाता है, अब eps-95 स्कीम के मुताबिक अगर मेंबर का कोई परिवार नहीं है, तो ऐसी अवस्था में मेंबर की मृत्यु पर जो व्यक्ति नाम भी तो होगा यानी नॉमिनी के नाम से रजिस्टर्ड होगा, उसको जीवन भर पेंशन की राशि अदा की जाएगी, ऐसे में 58 वर्ष की आयु में कर्मचारी अगर चाहे तो अपनी समूची रकम को निकाल कर किसी दूसरे इन्वेस्टमेंट स्कीम में लगा सकता है. इसकी पूरी आजादी सरकार अपने कर्मचारियों के विवेक पर छोड़ती है !EPFO Update: EPFO सब्सक्राइबर्स के खाते में आएंगे 81,000 रुपये, यहां जानिए तारीख और चेक करने का तरीका

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का फाइनेंस से जुड़ा ट्रेंडिंग आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा, ऐसे ही अच्छे-अच्छे आर्टिकल्स के लिए हमारी वेबसाइट को लगातार विजिट करते रहे, और इस पोस्ट को अपने फैमिली फ्रेंड के साथ जरूर साझा करें. धन्यवाद !