EPFO Rules 2022-23 : आ गया पेंशन स्कीम को लेकर नया रूल ! ये रहा नियम शर्तों की पूरी डिटेल !

EPFO Rules 2022-23 :- देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई ने एम्पलाई पेंशन स्कीम को लेकर उसके अप्पर लिमिट की सिफारिशें सरकार से की है। आने वाला समय इस बात से तय होगा कि इतनी सिफारिशों के बाद पेंशन की रकम मैं तब्दीली या बढ़ोतरी होगी या नहीं. अगर आप नौकरी बदलने का शौकीन है,और यदि आपकी सर्विस सिस्टर 10 साल की हो जाती है तो निश्चित ही आप पेंशन के लिए हकदार हो जाएंगे। पेंशन संबंधी पूरी खबर जानने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक आराम से पढ़ें।

EPFO Rules 2022-23

EPFO Rules 2022-23
EPFO Rules 2022-23

Employee Provident Fund Organization :- ईपीएफओ में सबसे खास बात यह है कि अगर किसी कर्मचारी की मृत्यु अक्षत हो जाए तो उसके पेंशन की कीमत की अदायगी उसके मृत्यु के बाद उसकी पत्नी और बच्चों को पेंशन का लाभ मिलेगा. देश में संगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों की सामाजिक सुरक्षा का ध्यान रखते हुए कर्मचारियों के पीएफ और पेंशन की स्कीम संचालित करता है समूचे देश में ! आपके जानने लायक एक और बात है ईपीएफ कर्मचारी होने के नाते आपको प्रत्येक माह अपने बेसिक सैलरी का 12% हिस्सा ईपीएफओ मे कंट्रीब्यूट करना होता है। हालांकि EPF में किए जाने वाले 12 फीसदी कॉन्ट्रीब्यूशन में से 8.33 फीसदी EPS में जाता है।EPFO Latest Update: सरकार EPF की सैलरी सीमा बढ़ा सकती है? फिलहाल यह सीमा ₹15,000 है.

क्या हैं ईपीएफओ का नया रूल ?

Pension Scheme :- कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के 6.5 करोड़ से ज्यादा खाताधारकों के लिए खुशखबरी ! वर्तमान परिपेक्ष में ईपीएफओ द्वारा स्थापित नियमों के मुताबिक EPS पेंशन में अधिकतम 15,000 रुपए की बेसिक सैलरी पर पेंशन बनती है. इससे पेंशन फंड में हर महीने अधिकतम 1250 रुपए ही जमा हो सकते हैं.अगर इसे बदला गया तो लिमिट बढ़कर 21,000 रुपए हो सकती है. लेकिन, EPS पेंशन को लेकर नियम पूरी तरह से अलग हैं. आइए जानें क्या है नया नियम !EPFO: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन द्वारा कर्मचारियों को बड़ा फायदा, जल्द मिलने वाली है बहुत बड़ी खुशखबरी।

जानिए क्या है EPFO के नए नियम  ?

ईपीएफओ के वर्तमान नियमानुसार बच्चे के साथ दें और उच्च शिक्षा और मकान खरीदने के लिए आंशिक निकासी की जा सकती हैं. पहले नौकरी छोड़ने या बेरोजगार होने की स्थिति में दो महीने बाद ही PF निकाला जा सकता था. EPFO के नियमों के मुताबिक, बच्चे की शादी, उच्च शिक्षा और मकान खरीदने के लिए आंशिक निकासी की जा सकती है. इसके 2 महीने बाद बचा हुआ 25 फीसदी हिस्सा भी निकाला जा सकता है.नौकरी छोड़ने के एक महीने बाद ही सदस्य 75 फीसदी रकम निकाल सकता है.EPFO 2022 : EPFO कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! क्योंकि मिनिमम पेंशन में होने जा रही है 9 गुना बढ़ोतरी, ये रहा डीटेल्स !

ऐसे निकाल सकते हैं पेंशन का पैसा !

मान लीजिए अगर आपकी नौकरी छे महीने से ज्यादा और 9 साल से महीनों से कम है तो आप फॉर्म 19 और 10 से जमा करके अपने पीएफ रकम के साथ पेंशन की रकम भी निकाल सकते हैं लेकिन इन सब के लिए आपको मैनुअली पीएफ ऑफिस में आवेदन करना होगा। फॉर्म भरने के बाद इसे EPFO के कार्यालय में ही जमा करना होगा. एक बार आवेदन प्रमाणित होने के बाद आपको पेंशन का पैसा मिल जाएगा !EPFO New Scheme 2022: मुनाफा ही मुनाफा ! दिहाड़ी मजदूरों की जल्द बदलेगी किस्मत,अब हर महीने मिलेगा पेंशन, जानें शर्तें

Note :- अगर आप 9 साल 6 महीने से कम की स्थिति में पेंशन के हिस्सा को निकालते हैं तो याद रखिए आप इसके बाद पेंशन के लिए हकदार नहीं होंगे.

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा. ऐसे ही ट्रेंडिंग आर्टिकल के लिए हमारे वेबसाइट पर लगातार विजिट करते रहें, और अपने प्यारे प्यारे प्रश्न हमें कमेंट में लिखना ना भूलें. धन्यवाद !