EPFO Subscribers News :- कई अर्से से चल रही है चर्चा,अब जाकर लगा है पूर्ण विराम. जाने क्या बोली सरकार !

EPFO Subscribers News :- अगर आपको पता ना हो तो बता दिया जाए कि लंबे अरसे से पेंशन फंड पर से लिमिट हटाने की चर्चा जोरों पर है,जो कि साल 2017 में इसे बोर्ड बैठक में रखा गया था,लेकिन अंतिम फैसला अभी तक नहीं हो पाया है.आखिरकार संसद की एक समिति ने मंगलवार को यह स्पष्ट किया था,कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की पेंशन योजना के तहत आंखों को न्यूनतम मासिक पेंशन के रूप में ₹1000 देना बहुत कम है,ऐसे में जरूरी है कि मंत्रालय पेंशन राशि बढ़ाने का प्रस्ताव आगे बढ़ाएं। फाइनली बात बन गई है अतः खबर को पूरा पढ़िए ताकि किसी और वेबसाइट पर घूम घूम यहीं खबर न पढ़नी पड़े !

EPFO Subscribers News

EPFO Subscribers News
EPFO Subscribers News

ईपीएफओ के 6.5 करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर के लिए बहुत बड़ी खबर है,दरअसल पेंशन फंड की सीलिंग को लेकर जल्द ही कोई बड़ा ऐलान हो सकता है,सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार सरकार ज्यादा से ज्यादा लोगों को पीएफ के दायरे में जाना चाहती है,इस दिशा में पेंशन की लिमिट ₹15000 की बेसिक सैलरी से बढ़ाकर ₹21000 की जा सकती है,आपको बता दें कि मौजूदा नियमों के मुताबिक ईपीएस पेंशन में अधिकतम ₹15000 की बेसिक सैलरी पर पेंशन बनती है,लेकिन पेंशन फंड में हर महीने अधिकतम 1250 rupaye ही जमा हो सकते हैं,अगर इसे बदला गया तो लिमिट को बढ़ाकर 21000 करना पड़ेगा.EPFO: इन कर्मचारियों को मिलेगी ज्यादा पेंशन, ईपीएफओ ने जारी किया सर्कुलर, जानें कैसे करें अप्लाई।

जानिए क्या है बेसिक सैलरी की सीलिंग के मायने !

आपको बता दीजिए इपीएफ कंट्रीब्यूशन के दौरान जब कोई सदस्य योगदान का सिलसिला शुरू करता है,तो उसके अंश का कुछ पैसा ईपीएस खाते में जाता है,यह वह हिस्सा होता है जो एंपलॉयर के खाते में जमा होता है,लेकिन इसके जमा होने और पेंशन फंड की अधिकतम लिमिट ₹15000 के आसपास है.अब चुकी इसे बढ़ाया जा सकता है।

मान लीजिए किसी व्यक्ति की बेसिक सैलरी ₹30000 है तो उस सैलरी पर उसको 12 फ़ीसदी कंट्रीब्यूशन प्रोविडेंट फंड में जमा होता है,इतना ही शेयर एंप्लॉयर के खाते में भी जमा होता है, लेकिन आपको बता दें कि एंप्लॉयर के हिस्से को दो जगह जमा किया जाता है,पहला ईपीएफ और दूसरा eps.EPFO New Initiative : 50 की उम्र वाले ध्यान से सुन ले ! बता दिया कैसे उठाएं eps-95 का लाभ, पढ़िए खबर !

जाने कैसे होता है इपीएफ कैलकुलेट ?

  • बेसिक सैलरी- 30000 रुपए
  • कर्मचारी का कंट्रीब्यूशन- 12 फीसदी के हिसाब से 3600 रुपए
  • एम्प्लॉयर का कंट्रीब्यूशन-12 फीसदी का 3.67 फीसदी के हिसाब से 2350 रुपए
  • पेंशन में कंट्रीब्यूशन- 8.33 फीसदी के हिसाब से 1250 रुपए
  • लिमिट बढ़ाकर 21 हजार करने की सिफारिश

ईपीएफओ के ट्रस्टी ने बताया कि फिलहाल बेसिक सैलरी की सीलिंग ₹15000 है,जिसे बढ़ाकर 21000 करने का प्रस्ताव रखा गया है,जाहिर तौर पर इसके बाद पेंशन की रकम में इजाफा होगा.पेंशन फंड बड़ा बढ़ने के अलावा दूसरा फायदा यह भी है,कि बेसिक सैलरी सीलिंग के ऊपर जिन लोगों की सैलरी है,उनके लिए पीएफ का कंट्रीब्यूशन वैकल्पिक होता है.ऐसे में अब इस दायरे में ज्यादा लोग आ जाएंगे।EPFO New Circular : जानिए किस रैंक के अधिकारी को कितनी मिलेगी पेंशन,पढ़िए खबर!

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा,अतः फाइनेंस से संबंधित ऐसे ही ट्रेंडिंग आर्टिकल्स के लिए हमारी वेबसाइट को लगातार विजिट करते रहें,और अपने प्यारे प्यारे प्रश्न हमें कमेंट के जरिए लिखना ना भूलें.धन्यवाद !EPFO Insurance Update 2022-23 : पीएफ खाताधारकों को फ्री में मिलता है ₹700000 का इंश्योरेंस, पढ़िए खबर !