Govt on Surprise Mood : 4% सरकारी कर्मचारियों के वेतन भत्ते के बाद अब विधायकों की बारी, पढ़िए खबर !

Govt on Surprise Mood :- हाल ही में मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार विधानसभा चुनाव 2023 की आचार संहिता लगने से ठीक पहले सभी प्रकार की श्रेणियों में फुल एंड फाइनल सेटेलमेंट करने का काम कर रही है,आपको बता दें कि पार्षद,महापौर,पंच,सरपंच जिला जनपद,पंचायत अध्यक्ष और कर्मचारियों को 4% के बाद अब विधायकों की वेतन में ₹40000 बढ़ोतरी करने की तैयारी जोरों पर है। तो चलिए आपको भी इस तैयारी का हिस्सा बनाते हुई इस आर्टिकल में आपका ज्ञानवर्धन करने का प्रयास करते हैं।

Govt on Surprise Mood

आज के समय में भी मध्यप्रदेश में ₹3000 में 1 साल के लिए अनलिमिटेड फ्री कॉलिंग की सुविधा मिलती है,लेकिन विधायकों को इसके लिए ₹120000 का भत्ता दिया जाता है,निश्चित रूप से इसी प्रकार के सभी भत्ते मिलाकर वर्तमान में मध्यप्रदेश के विधायकों को 1100000 रुपए मासिक वेतन के तौर पर मिलता है,और निश्चित रूप में प्रस्तावित वृद्धि के बाद विधायक का मासिक वेतन ₹1500000 हो जाएगा,लेकिन गौर करने वाली बात यह है,कि इस वृद्धि का सबसे ज्यादा फायदा उन्हीं को मिलेगा जो या तो 2023 के होने वाले चुनाव में टिकट नहीं लेंगे या फिर चुनाव हार जाएंगे,जाहिर तौर पर इस वृद्धि से उनकी पेंशन काफी अच्छी हो जाएगी।EPFO Latest Update: ईपीएफ सब्सक्राइबर के लिए स्पेशल है हर महीने की 10 तारीख, कोई भी समस्या हो तुरंत हो जाएगा समाधान.

कैबिनेट मंत्रियों को हर महीने मिलते हैं इतने लाख !

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में सीएम और मंत्रिमंडल के वेतन भत्तों की बात की जाए,तो जानकारी के मुताबिक एमपी में 230 विधायकों में से 130 मंत्री हैं,और निश्चित रूप से मंत्रियों को वेतन सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से दिया जाता है,ऐसे में मुख्यमंत्री को ₹200000 तो कैबिनेट मंत्रियों को ₹170000 वही राज्य मंत्रियों को ₹145000 का वेतन दिया जाता है,इसके अलावा विधानसभा की ओर से किया जाता है,आपको बता दें कि ₹10000 का वेतन भी दिया जाता है,वही विधानसभा अध्यक्ष को ₹187000 का वेतन मिलता है,ऐसे में हर महीने ₹200000 पॉलीटिशियन के जेब में जाता है,आपको बता दें कि प्रस्तावित बढ़ोतरी के बाद हर महीने अतिरिक्त भार राज्य सरकार के वही खाते बढ़ जाएगा.EPFO Latest Update 2023: ईपीएफओ का नया अपडेट क्या है, 10 साल काम करने पर मिलेगी पेंशन.

50 साल में अब तक का 550% बड़ा वाला वेतन !

आपको जानकर हैरानी होगी कि वेतन भत्ते बढ़ाने वाली समिति में वित्त मंत्री और संसदीय कार्य मंत्री सदस्य के तौर पर कार्यरत हैं,पुख्ता जानकारियों के अनुसार बजराज हरियाणा और हिमाचल प्रदेश में विधायकों के वेतन भत्ते मध्य प्रदेश से अधिक है,और इससे पहले मध्य प्रदेश में विधायकों का वेतन साल 2016 में बढ़ाया गया था,वहीं 1972 में प्रदेश के विधायकों के वेतन भत्ते दिए जा रहे थे,उसमें ₹200 मासिक वेतन के तौर पर अलग से मिलता था,अभी वह ₹110000 पर पहुंच चुका है यानी प्रदेश में बीते 50 साल में विधायकों का वेतन 550% तक बढ़ा है।EPFO: पीएफ कर्मचारियों के खाते में भेजे गए 80,000 रुपये से ज्यादा, फटाफट ऐसे करें चेक।

Conclusion :- उम्मीद करती हूं दोस्तों आपको आज का राजनीतिक आर्टिकल पसंद आया होगा,ऐसे ही पॉलिटिकल न्यूज़ से रिलेटेड ट्रेंडिंग आर्टिकल्स के लिए हमारी साइट पर लगातार विजिट करते रहे, और अपने प्यारे प्यारे प्रश्न हमें जैसे तैसे कमेंट में लिखना ना भूले…धन्यवाद !EPFO: क्या होता है Form 15G, PF निकालने में कैसे होता है इस्तेमाल, जानें यहां।