Grade Pay New Update 2022: ग्रेड पे 3600 करने की मांग पर अड़े,जानें क्या है पूरी जानकारी

Grade Pay New Update 2022 :आगामी चुनाव से पहले राजस्थान के ग्राम विकास अधिकारी संघ ने अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।राजस्व विसंगति, 3600 ग्रेड पे में उछाल व अन्य मांगों को लेकर ग्राम विकास अधिकारी देशभर में आंदोलन कर चुके हैं।समान जरूरतें पूरी नहीं होने पर दस सितंबर को जयपुर में धरना प्रदर्शन शुरू किया गया है।

Employee Pay Grade 2022: अकाउंट में आएगें इतने पैसे जानिए कैसे

जानिए पूरी रिपोर्ट यहां

झुंझुनू में ग्राम विकास अधिकारी (VDO) भी शुक्रवार को अपनी मांगों को लेकर धरने पर रहे और जमकर नारेबाजी की. जिलाध्यक्ष ने कहा कि सरकार को जरूरतों को पूरा करने का भरोसा था।जरूरतों के संबंध में अधिकारियों के साथ एक लिखित समझौता किया जाता है।10 महीने बीत जाने के बाद भी अब समझौता लागू नहीं किया गया है।धरना 10 सितंबर तक चलेगा।उसके बाद जयपुर में धरना प्रदर्शन होगा।

7th pay commission DA Hike: बड़ी ख़बर ! केंद्रीय कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले, महंगाई भत्ता बढ़ने की तारीख हुई तय, 4% पर लगी मुहर!

क्या है आरोप ?

हाल ही में कोटा जिले की 155 ग्राम पंचायतों के लगभग एक सौ पैंतीस ग्राम विकास अधिकारियों ने कलेक्ट्रेट के बाहर धरना दिया था और उनकी जरूरतें पूरी नहीं होने तक हड़ताल जारी रखने की धमकी दी थी. उनका आरोप है कि नवंबर 2021 में राज्य सरकार के साथ एक लिखित समझौता हुआफैक्टरियों की मांगों पर समझौता होने के बाद भी अधिकारियों ने अब उनके आदेशों को आज तक नहीं टाला

झालावाड़ में भी राजस्थान ग्राम विकास अधिकारी संघ जयपुर के आदेश पर जिले के ग्राम विकास अधिकारियों ने ब्लॉक स्तर के बाद गुरुवार से जिला परिषद द्वारा काले वस्त्र पहन कर धरना शुरू कर दिया है.कर्मियों का आरोप है कि 17 मार्च को1 अक्टूबर और 11 दिसंबर 2021 को अधिकारियों की मदद से लिखित समझौता किया गया था।लेकिन लंबे समय के बाद भी वादे के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है।इसको लेकर तमाम कर्मियों में आक्रोश है।

टोंक में भी ग्राम सुधार अधिकारियों ने काले वस्त्र पहनकर विरोध करने की बात कही।कार्यरत कर्मचारियों की सहायता से जिला संवर्ग परिवर्तन (अंतर-जिला स्थानांतरण) हेतु एकमुश्त छूट देने की नीति, लंबित पदोन्नति एवं मूल्यांकन डीपीसी, ग्राम पंचायत के अतिरिक्त कार्यभार पर ग्राम सुधार अधिकारियों को पिछले 10 वर्षों से दिया जा रहा अतिरिक्त दर भत्ता विभिन्न जरूरतों को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं जिनमें कटौती का आदेश भी शामिल है।

INDIAN OIL Recruitment for Filling Non-Executive Vacancies in Pipelines Division

ये हैं प्राथमिक जरूरतें

5वें व 6वें वेतन आयोग : इसमें वेतन विसंगति को दूर कर एसीपी के क्षेत्र में 3600 व 9,18 व 27 वर्ष का ग्रेड पे, मर्चेंडाइजिंग का वेतनमान 8, 16, 24 व 32 वर्ष को प्रकाशित प्रदाता द्वारा अनुमोदित, संगठन से पिछले समझौतों का अनुपालन ग्राम विकास अधिकारी एवं सहायक विकास अधिकारी के 1:4 के अनुसार सहायक विकास अधिकारी के 565 नये पद सृजित करने एवं सहायक विकास अधिकारी के 106 कार्यालय पद समाप्त किये जाने के संबंध में मुख्यमंत्री एवं मंत्री के द्वारा 28 सितम्बर के आदेश के अंतर्गत दिये गये आश्वासन को पूरा करना जरुरी है.

7th Pay Commission Update: DA के साथ केंद्रीय कर्मचारियों के अन्य भत्ते में भी हो सकती है बढ़ोतरी