Gratuity New Rules : कर्मचारियों को अब 1 वर्ष तक नौकरी करने पर दी जाएगी ग्रेच्युटी, आपको मिलेगा 75000 रूपए का लाभ

Gratuity New Rules : देश में श्रम सुधार के लिए केंद्र सरकार (Central Government) बहुत जल्द 4 नए श्रम कानून बनाने की तैयारी कर रही है। इस मुद्दे को लेकर श्रम राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने लोकसभा में लिखित जानकारी पेश की है। मिली जानकारी के मुताबिक नया श्रम कानून लागू होते ही भविष्य निधि, अवकाश, कर्मचारियों की सैलरी तथा ग्रेच्युटी (Gratuity) में परिवर्तन हो जाएगा।

सरकार बहुत जल्द कर्मचारियों के हित में करेगी फैसला

बताते चलें कि केंद्र सरकार कर्मचारियों के हित में बहुत जल्द बड़ा फैसला लेने पर विचार कर रही है। मिली जानकारी के मुताबिक सरकार जल्दी ही 4 नए श्रम कानून बनाने की तैयारी में जुटी है। नया श्रम कानून बनने के बाद इसका कर्मचारियों को जबरदस्त फायदा मिलेगा। यदि ये नए कानून लागू किए जाते हैं तो ग्रेच्युटी के लिए किसी भी संस्थान में लगातार 5 वर्ष की नौकरी करने की बाध्यता समाप्त हो जाएगी।

Central Government Employees : इन कर्मचारियों को मिलने वाली है 3 बड़ी खुशखबरी, बढ़ेगी सैलरी

Gratuity New Rules

वैसे देखा जाए तो सरकार ने अभी तक इसको लेकर कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है।

7th Pay Commission DA Hike : केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में होने वाली है जबरदस्त वृद्धि, जानिए कितना होगा फायदा

फिलहाल इतनी मिल रही है ग्रेच्युटी

बताते चलें कि किसी भी संस्थान में यदि काम करते हुए 5 वर्ष पूरे हो जाते हैं तो आपको ग्रेच्युटी मिलती है। ध्यान रखें कि ग्रेच्युटी की गणना उस महीने की बेसिक सैलरी के आधार पर की जाती है जब 5 वर्ष का समय पूर्ण होने पर आप नौकरी छोड़ते हैं। आइए उदाहरण के जरिए इस पूरी प्रक्रिया को समझते हुए चलते हैं कि ग्रेच्युटी का लाभ कर्मचारियों को किस प्रकार से मिलता है।

7th Pay Commission Latest Update : डीए में बढ़ोतरी होने पर इन भत्तों में भी हो जाएगी वृद्धि, मिलेगी इतनी सैलरी

ऐसे की जाती है ग्रेच्युटी की गणना

मान लीजिए कि आपने किसी कंपनी में 10 साल तक काम किया। वहीं पिछले महीने आपके बैंक अकाउंट में 50000 रूपए प्राप्त हुए। अब इसमें बेसिक सैलरी 20000 रूपए है तथा 6000 रूपए महंगाई भत्ता है। तो अब इस हिसाब से ग्रेच्युटी की गणना 26000 रूपए के आधार पर की जाएगी। ग्रेच्युटी में कार्यकाल 26 माना जाता है। अब आप 26000 को 26 से भाग दे दीजिए।

भाग देने के बाद 1000 रूपए परिणाम आया। अब इसको 15 दिन से गुणा कर दीजिए। तो अब परिणाम 15000 रूपए होगा। अब इस हिसाब से 5 साल को गुणा किया जाए तो 75000 रूपए ग्रेच्युटी मिलेगी। सबसे खास बात ये है कि ग्रेच्युटी एक्ट 2020 का फायदा सिर्फ फिक्स्ड टर्म कर्मचारियों को ही मिल सकेगा। फिलहाल 5 वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर प्रत्येक वर्ष 15 दिन के वेतन के आधार पर ग्रेच्युटी निर्धारित की जाती है।

बताते चलें कि यदि कोई कर्मचारी 1 वर्ष तक किसी संस्थान में काम करता है तो उसे ग्रेच्युटी मिलने का हक है। सरकार यह व्यवस्था फिक्सड टर्म कर्मचारियों के लिए शुरू की है।

Leave a Comment