ITR Deadline Update 2023 : अब 31 दिसंबर तक बढ़ गई आइटीआर भरने की तारीख, चुके तो पड़ जाएंगे मुश्किल में !

ITR Deadline Update 2023 :- क्यों पड़े हो चक्कर में कोई नहीं है टक्कर में ! इस हौसले के साथ वित्त मंत्रालय ने कंपनियों द्वारा आकलन वर्ष 2022 23 के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दी है। जैसा कि आप पहले से जानते हैं वित्तीय वर्ष 2022 23 के लिए आइटीआर फाइल करने की डेडलाइन 31 जुलाई 2022 कर दी गई थी,लेकिन इस डेट पर आइटीआर फाइल नहीं कर पाने वाले टैक्सपेयर्स को एक और मौका देते हुए इसे दुबारा फाइल करने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2022 कर दी गई है.ऐसे में टैक्सपेयर्स हर साल विलेटेड और रिवाइज्ड आइटीआर फाइल कर दें,

ITR Deadline Update 2023

ITR Deadline Update 2023
ITR Deadline Update 2023

अगर साल 2022 की बात करूं तो अब तक 5.83 करोड़ से अधिक करदाताओं ने आइकन रिटर्न भर दिया है,लेकिन कई करदाताओं ने दिए बेवड़े में गलतियां की है, इन गलतियों को सुधारने के लिए आयकर विभाग ने अपडेटेड आइटीआर फाइल करने के लिए 5 महीने अलग से लिए थे, जिसकी अवधि दिसंबर में खत्म हो रही है, इसलिए इस माह करदाताओं को हर हाल में अपडेटेड आईटीआर फाइल करना है.इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने को लेकर सरकार ने टैक्सपेयर्स के लिए बड़ा ऑर्डर दिया है,विभाग ने वेरिफिकेशन नियमों को भी सख्त कर दिया है,क्योंकि वेरिफिकेशन के लिए पहले 120 दिन का समय मिलता था,अब उसको घटाकर महज 30 दिन कर दिया गया है।ITR Filing Date Extended 2022 : 31 दिसंबर से पहले पहले कर ले आइटीआर फाइल, नहीं तो बढ़ जाएगी दिक्कत !

ये रही आइटीआर भरने की आखिरी तारीख

आयकर विभाग के अनुसार करदाताओं को अपडेटेड आइटीआर फाइल करने की समय सीमा 31 जुलाई के बाद शुरू करनी थी, लेकिन उन्होंने 5 महीने का वक्त अलग से ले लिया अब आयकर टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 139(5) के मद्देनजर करदाताओं को आइटीआर अपडेट करने की सुविधा दी गई है. चुकीं अपडेटेड आइटीआर फाइल करने की अंतिम तारीख 1 दिसंबर 2022 रखी गई है,अतः जो करदाता इस समय सीमा तक अपडेटेड आईटीआर फाइल नहीं कर पाते हैं,उन्हें आयकर विभाग के नोटिस का सामना करना पड़ सकता है, या फिर मोटा जुर्माना भी भरना पड़ सकता है.ITR Filing Process 2022 : क्या आपने इनकम टैक्स अब तक नहीं भरा हैं? ये रहा डेडलाइन !

अपडेटेड आइटीआर के लिए भरना पड़ेगा फाइन !

चुकी अपडेटेड आइटीआर फाइल करने पर आयकर अधिनियम 1961 के 234f सेक्शन के तहत निर्धारित इंचार्ज करता है बता दें कि अपडेटेड आइटीआर फाइल करने वाले छोटे करदाताओं यानी ढाई लाख तक आए वालों के लिए ₹1000 फाइन देना होता है वही जिनकी आय ₹500000 से अधिक है उन्हें ₹5000 तक अपने जेब से खर्च करने पड़ सकते हैं।क्योंकि अगर इस बार चुके तो आयकर विभाग से नोट इसके साथ ही साथ भारी मुश्किल का सामना भी करना पड़ सकता है। ऐसे में खबर को ठीक से पूरा पढ़ने के लिए अंत तक आराम से पढ़ें।VPF Full Details 2022 : ऐसे करें वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड में निवेश, इतना मिलेगा फायदा !

जानिए किसे भरना है,अपडेटेड आइटीआर ?

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के अनुसार जिन करदाताओं ने ऑनलाइन गेम्स लॉटरी या बैटिंग के जरिए कमाई की है, और इनका ब्यौरा आइटीआर में नहीं दिया है, उन्हें अपडेटेड आईटीआर फाइल कर उसमें यह ब्यौरा देना होगा।

साथ ही साथ आयकर विभाग के अनुसार ऐसे करदाता जिन्होंने एनुअल इंफॉर्मेशन स्टेटमेंट आइए फॉर्म में दी गई जानकारियों को बिना पुष्टि किए भर दिया है,और वह गलत है तो उन्हें अपडेटेड आईटीआर फाइल करने की जरूरत है।12th Installment Kab Aayega : बंपर धमाका ! खाते में इस दिन आएंगे 2,000 रुपये ?

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का टिकल बेहद पसंद आया होगा ऐसे ही फाइनेंस से संबंधित ट्रेंडिंग आर्टिकल्स के लिए हमारे वेबसाइट को लगातार विजिट करते रहें और अपने प्यारे प्यारे प्रश्नों में कमेंट के जरिए लिखना ना भूलें. धन्यवाद