Wed. Sep 21st, 2022

Kisan 2022:समय-समय पर केंद्र और राज्य सरकारें देशवासियों के लिए विविध योजनाएँ चलाती हैं, जिनका उद्देश्य उनके भाग्य को ऊँचा और उज्जवल बनाना है।इसी क्रम में राज्य सरकार के माध्यम से किसानों का मुनाफा बढ़ाने के लिए हर दूसरा कदम उठाया गया है, जिसके तहत उन्हें 7000 रुपये की आर्थिक मदद मिलेगी।योजना में राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों की भागीदारी है।इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों के लिए कुछ स्थितियों को बचाया गया, जिनका पालन करना महत्वपूर्ण हो सकता है।

PM Kisan Yojana 2022: करोड़ो किसानों का इन्तजार हुआ खत्म, इस दिन आएगी 12 वीं किस्त

मेरा पानी मेरी विरासत योजना के तहत मिलेगी सौगात

(MPMVY):सरकार की इस योजना के तहत किसानों को सूक्ष्म सिंचाई पर 80% के अलावा मक्का, अरहर, उड़द, कपास, बाजरा, तिल और बेसन जैसे पौधों की खेती के लिए प्रति एकड़ 7000 रुपये की आर्थिक मदद दी जा सकती है। दुकान,भूजल स्तर,अनुदान भी मिल सकता है।इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक किसान का हरियाणा का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।किसान के पास आधार कार्ड से जुड़ा एक वित्तीय बचत वित्तीय संस्थान खाता होना चाहिए।किसान को अपने पिछले वर्ष के धान उत्पादन के 50% में विविधता लानी होगी।
50 हॉर्स पावर(Horse power) की बिजली से चलने वाली मोटर का इस्तेमाल करने वाले किसानों को अब इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

SBI Kisan Credit Card 2022:बिना गारंटी के मिलेगा 3.5 लाख तक का लोन, जल्दी लोन के साथ मिलेंगे कई और फायदे

आर्थिक मदद दे रही सरकार

हरियाणा सरकार किसानों को खेती के लिए 7000 रुपये की आर्थिक मदद दे रही है।इस योजना के तहत किसानों को मक्का, अरहर, उड़द, कपास, बाजरा, तिल और बेसन मूंग जैसे पौधों की खेती के लिए प्रति एकड़ सात हजार की आर्थिक मदद दी जा सकती है।

PM Kisan Yojana : सरकार ने किसानों को दी बड़ी खुशखबरी, कर दी ये घोषणा

मूल्यवान अनाज में 15% का योगदान

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा कृषि प्रधान राज्य है।यह मूल्यवान भोजन में लगभग 15 प्रतिशत का योगदान देता है, जबकि इसका स्थान देश के संपूर्ण स्थान का सबसे प्रभावी 1.34 प्रतिशत है।हमारी कृषि वृद्धि शुल्क सालाना के अनुरूप 3.3% प्रतिशत तैयार है।राज्य में उत्पादकता बहुत अधिक है, जो हेक्टेयर के अनुरूप 1 लाख 55 हजार रुपये है।इससे जाहिर है कि यहां किसान की कमाई बढ़ रही है।राज्य के भीतर कृषि क्षेत्र के भीतर बागवानी और पशुपालन का प्रतिशत बढ़ रहा है।

Prdhan Mantri Matsya Sampada Yojna : सरकार ने मछुआरों के लिए शुरू की ये योजना, जानिए कैसे मिलेगा लाभ

ड्रैगन फ्रूट की खेती योजना(Dragon Fruit Yojna)

Dragon Fruit Yojna:ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए प्रधानमंत्री के प्रोत्साहन का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा पहला राज्य है जिसने खजूर की खेती को ड्रैगन फ्रूट के साथ मिलाकर बेचने की अनूठी योजना जारी की है, जिसमें इसकी कल्पना और भविष्यवाणियां समझी जा रही हैं। प्रधानमंत्री,इसमें ड्रैगन फ्रूट के लिए एकड़ के अनुरूप 1.2 लाख रुपये दिए जा रहे हैं।

By Harshitaa Mishraa

Harshita Mishra works as a professional in content writing who has 1 years of experience in education and Yojana. She has a degree Of B.A & Pursuing M.A with Political Science.& She is an UPSC Aspirant.She has worked previously with media companies like 11Bee as well as Supernet Media she writes content for the Current Affairs section

Leave a Reply

Your email address will not be published.