NEET UG 2022 Exam : इस परीक्षा केंद्र पर छात्राओं के साथ की गई बदसलूकी, उतरवाए गए अंडर गारमेंट्स

NEET UG 2022 Exam : परीक्षा के दौरान चेकिंग करने के नाम पर छात्राओं के साथ बदसलूकी का मामला प्रकाश में आया है। बताते चलें कि केरल के कोल्लम से एक ऐसी घटना सामने आई है जो कि बेहद शर्मनाक है। ये घटना NEET UG 2022 के परीक्षा के दौरान घटित हुई है जिसका खुलासा न्यूज एजेंसी IANS ने किया है। बताया जा रहा है कि परीक्षा के दौरान यहां छात्राओं के अंडर गारमेंट्स उतरवा दिए गए थे।

चेकिंग के नाम पर उतरवाए गए अंडरगारमेंट्स

न्यूज एजेंसी IANS के अनुसार केरल राज्य के कोल्लम में स्थित मोर्थम इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में NEET UG 2022 की परीक्षा के दौरान चेकिंग के नाम पर छात्राओं के अंडर गारमेंट्स तक उतरवा दिए गए। इस घटना को लेकर छात्राओं के परिजनों ने पुलिस से इस बात की शिकायत भी की। वहीं पुलिस ने मामला दर्ज करके इसकी गहनता के साथ जांच शुरू कर दी है।

NEET UG 2022 : बढ़ा दी गई रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख, NEET की परीक्षा पास करना हुआ अनिवार्य

NEET UG 2022 Exam

वहीं इंस्टीट्यूट ने इस प्रकार की किसी भी घटना से साफ इंकार कर दिया है लेकिन पुलिस अभी जांच पड़ताल में जुटी हुई है। ठीक इसी तरह का कुछ मामला राजस्थान के कोटा से भी सामने आया है। बता दें कि राजस्थान में स्थित कोटा के मोदी कॉलेज में 4 मुस्लिम छात्राओं ने हिजाब पहन रखा था। वो जैसे ही कॉलेज के गेट पर पहुंची उनको पुलिस ने गेट पर ही रोक दिया।

NEET Exam UG 2022 : नीट की परीक्षा में किया गया बड़ा बदलाव, देखें डिटेल

छात्राओं ने हिजाब हटाने से मना किया

पुलिस के इस रवैये से छात्राएं सकते में आ गईं और उन्होंने अपना हिजाब हटाने से साफ मना कर दिया। जब पुलिस ने ये देखा कि छात्राएं अपनी जिद पर अड़ी हुई हैं तो उन्होंने छात्राओं को ड्रेस कोड की नसीहत देनी शुरू कर दी। लेकिन छात्राओं ने फिर भी अपना हिजाब नहीं हटाया। जब सारी तरकीबें फेल हो गईं तो छात्राओं से यह लिखवाया गया कि परीक्षा के दौरान यदि कोई सख्त कदम उठाया जाता है तो इसकी जिम्मेदार वो स्वयं होंगी।

NEET UG 2022 : सभी छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी, समाप्त की गई अधिकतम आयु सीमा

NEET की गाइडलाइन

अब हम बात करें कि NEET की गाइडलाइन क्या है तो ये देखने को मिलता है कि कोई भी विद्यार्थी परीक्षा केंद्र पर फुल कपड़ा पहन कर नहीं आ सकता है। यदि कोई छात्र फुल बाजू का कपड़ा पहनकर परीक्षा देने पहुंचता है तो उसके कपड़े के बाजुओं को काटकर हाफ बनाया जाएगा तभी वो परीक्षा दे सकता है। लेकिन कोटा में उन छात्राओं ने हिजाब पहनकर ही परीक्षा दी थी।

NEET PG 2022 : नीट पीजी परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी, ऐसे करें डाउनलोड

कोटा में हुई घटना को लेकर ASI गीता देवी ने जानकारी देते हुए ये बताया कि पुलिस के द्वारा परीक्षा केंद्र के बाहर गेट पर कड़ाई के साथ छात्रों की चेकिंग की जा रही थी। वहीं जिन लोगों ने पूरे बाजू का कपड़ा पहन रखा था उनके आस्तीन को काटकर छोटा कर दिया गया था। इसके बाद ही उनको परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया गया था।