PM Free Laptop Yojna : क्या है प्रधानमंत्री लैपटॉप वितरण योजना की सच्चाई, हो जाएं सावधान

PM Free Laptop Yojna : केंद्र सरकार (Central Government) तथा राज्य सरकार द्वारा तमाम तरह की योजनाएं देशवासियों के लिए चलाई जाती हैं। इसी प्रकार सरकार द्वारा छात्रों के भविष्य को देखते हुए कई तरह की योजनाएं चलाई जा रही हैं। अभी हाल में ही एक मैसेज तेजी से वायरल हुआ जिसमें बताया गया कि प्रधानमंत्री लैपटॉप वितरण योजना 2022 के तहत कक्षा 10 पास कर चुके छात्रों को मुफ्त में लैपटॉप का वितरण किया जा रहा है। यदि आपने भी इस तरह का मैसेज कहीं देखा है तो यह जानना बहुत जरूरी है कि ये पूरी तरह से फेक संदेश है। इस संदेश के झांसे में बिल्कुल न पड़ें।

PIB Fact Check ने किया बड़ा खुलासा

दरअसल पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) ने इस बात का खुलासा किया है कि प्रधानमंत्री लैपटॉप वितरण योजना 2022 से संबंधित एक मैसेज तेजी से वायरल हो रहा है जो कि पूरी तरह से फर्जी और फेक है। साथ ही ये भी कहा गया है कि ऐसे मैसेज के चक्कर में बिल्कुल भी न पड़ें। हो सकता है कि आपके साथ धोखाधड़ी करने की कोशिश की जा रही हो। कोरोना काल (Corona) के दौरान ये साफ तौर पर देखा जा सकता है कि लोगों में मोबाइल तथा लैपटॉप का क्रेज काफी बढ़ गया है। ऐसे में साइबर अपराध (Cyber Fraud) होने की आशंका ज्यादा हो गई है।

पीआईबी फैक्ट चेक ने ट्वीट कर दी जानकारी

बताते चलें की पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) की तरफ से एक ट्वीट किया गया है। इस ट्वीट में जानकारी साझा करते हुए कहा गया है कि केंद्र सरकार की तरफ से कक्षा 10 पास करने वाले छात्रों के लिए इस प्रकार की कोई भी योजना नहीं चलाई जा रही है। पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) की तरफ से ये भी कहा गया है कि इस तरह का कोई भी मैसेज दिखाई दे तो उसे आगे फॉरवर्ड न करें। इतना ही नहीं बल्कि इस तरह के दिए गए लिंक या वेबसाइट पर अपनी निजी जानकारी भी न शेयर करें। यदि आपने इस तरह की गलती की तो बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

प्रधानमंत्री की फोटो का गलत प्रयोग

वायरल किए गए इस फर्जी मैसेज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की फोटो का भी प्रयोग किया गया है। इस संदेश में स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि प्रधानमंत्री लैपटॉप वितरण योजना के तहत लिया गया बड़ा फैसला। आगे बताया गया है कि प्रधानमंत्री लैपटॉप वितरण योजना के लिए पंजीकरण (Registration) किया जा रहा है। जिसमें कक्षा 10 पास करने वाले 16 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक के युवाओं को प्रधानमंत्री लैपटॉप वितरण योजना 2022 के तहत मुफ्त में लैपटॉप का वितरण किया जाएगा। साथ ही लोगों से उनका निजी विवरण भी मांगा गया है।

बिल्कुल साझा न करें निजी जानकारी

यदि आपने ये मैसेज कहीं देखा है या फिर आगे आपको कहीं दिखाई देता है तो अपना निजी विवरण जैसे मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी, अपने बैंक का खाता नंबर इत्यादि बिल्कुल भी साझा न करें। ये समझना बहुत जरूरी है कि जैसे-जैसे लोगों के अंदर मोबाइल फोन तथा लैपटॉप को लेकर उत्सुकता बढ़ती जा रही है ठीक उसी प्रकार साइबर अपराधियों के हौसले भी बुलंद होते जा रहे हैं। इस तरह के गलत संदेश भेज कर साइबर अपराधी आपकी पूरी डिटेल्स जान लेंगे। जिसके बाद आपको धमकी देकर या अन्य टेक्नोलॉजी का प्रयोग करते हुए आपके खाते में रखा सारा पैसा निकाल लेंगे। अपराधी इससे भी बड़े अपराध को अंजाम देने में पीछे नहीं हटेंगे।

शक होने पर इस मेल आईडी पर भेजें संदेश

बताते चलें कि पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) सरकारी योजनाओं या सरकारी नीतियों पर दी गई गलत जानकारी का पूर्ण रूप से खंडन करता है। यदि आपको भी कहीं सरकार से जुड़ी योजना या नीतियों पर मन में कोई शंका पैदा हो रही है तो आप पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) को इस बात की सूचना बेझिझक दे सकते हैं। जानकारी साझा करने के लिए आप [email protected] पर ई-मेल भेज सकते हैं।

Leave a Comment