PM Kisan Samman Nidhi: सम्मान निधि की लिस्ट से बाहर हुए UP के लाखों किसान, कृषि विभाग ने उठाया ये कदम।

Kisan Samman Nidhi: किसानों की नजर पीएम किसान सम्मान निधि की तेरहवीं किस्त पर है.हालांकि जिन किसानों का ई-केवाईसी हमेशा पूरा नहीं होता है, उन्हें अब सम्मान निधि की राशि नहीं मिलेगी।इसी को ध्यान में रखते हुए अब कृषि विभाग यूपी के हर गांव में ई-केवाईसी कैंप लगा रहा है

PM kisan Update: पीएम किसान सम्मान योजना की तेरहवीं किस्त जल्द ही वापस आने वाली है, लेकिन इससे पहले सूची से किसानों के नाम हटाने का सिलसिला जारी है।इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश में किसानों का केवाईसी नहीं होने के कारण 33 लाख किसानों की पीएम किसान सम्मान निधि रोक दी गई है.इसका कारण बताया जा रहा है कि मोबाइल नंबर आधार कार्ड से हमेशा जुड़ा नहीं रहता है।इसी को ध्यान में रखते हुए अब कृषि विभाग गांव-गांव ईकेवाईसी कैंप लगाएगा।

PM Kisan Samman Nidhi

PM Kisan 13th Kist Status: 13वीं क़िस्त पाने वाले दे ध्यान- आपको मिला SMS अलर्ट।

PM Kisan Samman Nidhi: डूंगरपुर के 36 हजार किसानों का हो सकता है नुकसान, जल्द कर लें ये छोटा-सा काम।

किसान सम्मान निधि लेने के लिए ईकेवाईसी कराना होगा।

इसमें 2.41 करोड़ किसानों को ग्यारहवीं किस्त दी गई, बारहवीं किस्त के लिए कुल राशि 1.7 करोड़ रही।अब इस योजना की तेरहवीं किस्त भी आने वाली है, जिसे फरवरी में मिलना है, तो अभी भी 33 लाख किसान ऐसे हैं जिनका केवाईसी पूरा नहीं हो पाया है

गोरखपुर बस्ती मंडल में अब अधिकतम ईकेवाईसी का परीक्षण नहीं किया गया है, जिसमें प्रत्येक मंडल में लगभग 7 लाख किसानों का ईकेवाईसी शेष है, वहीं प्रयागराज में 2.61 लाख और लखीमपुर खीरी में 2.12 लाख किसान अब रह गए हैं लेकिन केवाईसी कराया गया।इसके अलावा गोरखपुर बस्ती संभाग में 700000 किसान, बलिया गाजीपुर सहित नौ जिलों में 6.2 लाख किसान, मुरादाबाद संभाग में 1.75 लाख, शाहजहांपुर में 1.23 लाख, अलीगढ़ संभाग में 1.65 लाख, बरेली में नब्बे हजार, 88 किसान शामिल हैं.मुजफ्फरनगर में हजार, फतेहपुर में चौरासी हजार,सहारनपुर में 81 हजार, लखनऊ में 79 हजार और आगरा में 73 हजार किसान सम्मान निधि से वंचित रहे।

PM Kisan Yojana 2023 : इन 4 चीजों से चूके तो खाते में नहीं आएगी एक भी फूटी कौड़ी, नियम में हो गया धांसू बदलाव !

PM Kisan FPO Scheme 2023 : एग्रीबिजनेस को लेकर सरकार कर रही है बड़ी पहल ! ये रहा सरकारी आवेदन का तरीका……!

बेनेफिशियरी लिस्ट में देखें नाम

पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। इसके बाद फार्मर कॉर्नर पर क्लिक करें।यहां लाभार्थी सूची में अपनी कॉल की जांच करें।पहले देखिए कि यहां ई-केवाईसी और जमीन की जानकारी बिल्कुल भरी हुई है।पीएम किसान योजना की प्रतिष्ठा के आगे अगर ‘श्योर’ लिखा है तो आशंका है कि आपके खाते में तेरहवीं किस्त ट्रांसफर हो सकती है.वहीं अगर इनमें से किसी भी जगह पर नहीं लिखा है तो आपकी किस्त भी रुक सकती है।