Post Office Scheme: पोस्ट ऑफिस की आई एक धांसू स्कीम! झट से डबल हो जाएगी आपकी रकम

Post Office scheme: post office की योजनाएं लंबे समय के निवेश होती हैं।ये योजनाएं उन व्यक्तियों के लिए हैं जो पारंपरिक निवेश का विकल्प चुनते हैं और लंबी अवधि के दृष्टिकोण की सुविधा देते हैं।आइए जानते हैं पोस्ट ऑफिस की जबरदस्त स्कीम के बारे में।

Post office Yojana: सुरक्षित वित्त पोषण के साथ, आप अपने और अपने परिवार के भाग्य को स्थिर कर सकते हैं।वर्तमान में, अवसर क्षमता को ध्यान में रखते हुए, आपके पास कई प्रकार के फंडिंग विकल्प उपलब्ध हैं।यदि आपको अत्यधिक अवसर देने की भूख है, तो आप निश्चित रूप से म्यूचुअल फंड के साथ-साथ इक्विटी में पैसा लगाते हैं।यदि आपको एक सुरक्षित और 0 मौका फंडिंग की आवश्यकता है तो डाकघर बचत योजना (किसान विकास पत्र) एक उच्च विकल्प हो सकता है।

पोस्ट ऑफिस में है लंबी अवधि का निवेश

Post office की योजनाएं लंबे समय के निवेश हैं।दरअसल, ये योजनाएं उन लोगों के लिए हैं जो पारंपरिक निवेश चुनते हैं और लंबे समय तक निवेश करते हैं।कार्यालय की योजनाओं को जमा करने पर सरकारी आश्वासन देना होगा, यानी इसमें कोई खतरा नहीं होगा।साथ ही फंडिंग पर सुनिश्चित वापसी भी की जानी चाहिए।यहां हम आपको किसान विकास पत्र नाम की एक ऐसी ही पोस्ट ऑफिस योजना के बारे में बताने जा रहे हैं।

क्या है किसान विकास पत्र स्कीम (KVP) जानिए यहां!

इस योजना की अवधि 124 महीने यानि 10 साल चार महीने है।यदि आपने 1 अप्रैल 2022 से 30 जून 2022 तक इस योजना में निवेश किया है, तो आपके माध्यम से जमा की गई एकमुश्त राशि 10 साल चार महीने में दोगुनी हो जाती है।

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के प्रमोशन के नियमों में बदलाव, जानिए कब आएगी खाते में डीए की राशि

कितना करें इसमें निवेश?

इस योजना पर कोई भी अधिकतम धन सीमा नहीं है।आपको किसान विकास पत्र प्रमाण पत्र कम से कम 1,000 रुपये के फंड से खरीदना चाहिए, यानी आप इस योजना पर जितनी जरूरत हो उतनी नकदी रख सकते हैं।यह योजना 1988 में शुरू हुई थी, फिर इसका लक्ष्य किसानों के वित्त पोषण को दोगुना करना था, हालांकि अब इसे सभी के लिए खोल दिया गया है।

क्या है इसके जरूरी दस्तावेज

इस निवेश में कोई सीमा नहीं होने से कैश लॉन्ड्रिंग की संभावना हो सकती है।इसलिए, 2014 में, अधिकारियों ने 50,000 रुपये से अधिक के निवेश के लिए पैन कार्ड को अनिवार्य कर दिया।10 लाख या उससे अधिक का निवेश करने पर आय प्रमाण भी जमा करना होगा, जिसमें आईटीआर, कमाई पर्ची और वित्तीय संस्थान की घोषणा आदि शामिल हैं।आइए जानते है इसकी कुछ प्रक्रिया के बारे में :

PM Jandhan Yojana: जनधन खाता धारकों को मिलने वाला है बड़ा लाभ सरकार देने वाली है 1.30 लाख रुपए का फायदा

1. सिंगल होल्डर टाइप सर्टिफिकेट: इस तरह के सर्टिफिकेट खुद के लिए या नाबालिग के लिए खरीदे जाते हैं
2. संयुक्त ए खाता प्रमाणपत्र: यह 2 वयस्कों को पारस्परिक रूप से जारी किया जाता है।प्रत्येक धारक को देय, या जो भी जीवित है
3. संयुक्त बी खाता प्रमाणपत्र: यह 2 वयस्कों को पारस्परिक रूप से जारी किया जाता है।दोनों को भुगतान कर सकते हैं या जो जीवित हैं

EPFO Latest Update: PF स्टेटमेंट में नजर नहीं आता ब्याज का पैसा? मंत्रालय ने बताया इसका कारण

जाने किसान विकास पत्र के फीचर्स

1. इस योजना में गारंटीड रिटर्न होना चाहिए, इसका बाज़ार के उतार-चढ़ाव से कोई लेना-देना नहीं है, इसलिए यह निवेश का पूरी तरह से सुरक्षित तरीका है।टर्म खत्म होने पर आपको पूरी मात्रा मिल जाती है
2. इसमें आयकर के चरण 80सी से नीचे कर छूट नहीं होनी चाहिए।उस पर वापस जाना बिल्कुल कर योग्य है।वयस्कता के बाद निकासी पर कर नहीं लगता
3. आप वयस्क होने पर यानी 124 महीने के बाद राशि निकाल सकते हैं, हालांकि इसकी लॉक-इन अवधि 30 महीने है।इससे पहले आप इस योजना से तब तक पैसे नहीं निकाल सकते जब तक कि खाताधारक की मृत्यु नहीं हो जाती है या कोई कोर्ट रूम डॉकेट आदेश नहीं है।
4. इसमें संभव है कि 1000, 5000, 10000, 50000 के मूल्यवर्ग पर पैसा खर्च करें।
5. आप किसान विकास पत्र को संपार्श्विक या प्रतिभूति के रूप में रख कर भी गिरवी रख सकते हैं।

7th Pay Commission: महंगाई भत्ता में बढ़ोतरी का तोहफा, जानिए 5 महत्वपूर्ण