Retirement Age Update 2022-23 : मिल गईं रिटायरमेंट Age को हरी झंडी ! पश्चिम देश के मॉडल पर हो रहा विचार, पढ़िए खबर !

Retirement Age Update 2022-23 :- एक तरफ़ साल 2047 जब देश अपनी स्वर्ण जयंती के हर्ष उल्लास में व्यस्त होगा। दूसरी तरफ देश के 14 करोड़ लोग बुजुर्गों की आबादी में शामिल हो जाएंगे, यानि 60 साल से अधिक उम्र वाले लोगों का देश. इस वजह से पेंशन फंड ऊपर दबाव बढ़ जाएगा. वर्तमान में ईपीएफओ के 6 करोड़ से अधिक सब्सक्राइबर है. भारत में रिटायरमेंट की उम्र अमेरिका और यूरोप के देशों से फिलहाल कम है, लेकिन यह आंकड़ा बहुत ही जल्द फाडू तरीके से आगे बढ़ने वाला है. ऐसे में क्या कहते हैं लेटेस्ट रिपोर्ट आइए जाने !

Retirement Age Update 2022-23

Retirement Age Update 2022-23
Retirement Age Update 2022-23

ईपीएफओ के 6 करोड से अधिक सब्सक्राइबर है, और यह 1200000 करोड रुपए के अधिक वाले पेंशन और प्रोविडेंट फंड का प्रबंधन करता है। मीडिया खबरों की माने तो अपने प्लान में पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी को शामिल करेगा.पीएफआरडीए केंद्र सरकार की राष्ट्रीय पेंशन योजना का संचालन करता है। एनएसओ की 2021 के रिपोर्ट के अनुसार देश में 60 से अधिक उम्र की बुजुर्ग की आबादी 2021 में 138 मिलियन के आसपास थी। ओड़िया आंकड़ा 2031 में 194 मिलियन तक पहुंचने के आसार जताए जा रहे हैं।Pension Increment News 2022-23 :- बल्ले बल्ले ! अब 9 गुना तक बढ़ जाएगी मिनिमम पेंशन! हर महीने मिलेंगे 9 हजार रुपए !!

आर्थिक सलाहकार समिति ने दिया सुझाव !(Retirement Age Update 2022-23)

सरकारी कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र को बढ़ा सकती है। पीएम मोदी के आर्थिक सलाहकार समिति ने सुझाव दिया है, जिसमें लोगों को रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाने की सलाह दी गई है। साथ ही देश में यूनिवर्सल पेंशन सिस्टम लागू करने का सुझाव दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो सरकारी कर्मचारियों को हर महीने न्यूनतम ₹2000 पेंशन देने के लिए कहा गया है। आर्थिक सलाहकार समिति ने सीनियर सिटीजन के आर्थिक सुरक्षा को सुनिश्चित करने की सिफारिश की है।Gratuity and Pension Rule 2022 : सरकार सख्त ! एक गलती और पेंशन-ग्रेच्युटी ख़तम, पढ़िए खबर !

अब स्किल डेवलपमेंट के जरिए कर्मचारी होंगे लाभान्वित !

अब जब देश के विकास की बात चल रही हो, तो देश के इंधन यानी सरकारी कर्मचारी के रिटायरमेंट की उम्र को बढ़ाने की भी जरूरत है, NSO की रिपोर्ट के मुताबिक सामाजिक सुरक्षा प्रणाली पर प्रेशर को कम करने के लिए ऐसा किया जा सकता है. साथ ही 50 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए स्किल डेवलपमेंट की बात भी कही गई है, ताकि वह भी काम के मुताबिक अपने स्किल को बेहतर कर सकें।EPS Pension Increase : EPFO सब्सक्राइबर को मिली इतनी बड़ी खुशखबरी, 333% बढ़ी EPS पेंशन

रिटायरमेंट पर क्या है सरकार की नई नीति ?

World population prospects 2019 के अनुसार साल 2050 तक भारत की करीब-करीब 32 करोड़ की आबादी सीनियर सिटीजन के दायरे में सिमट कर रह जाएगी. इनमें से 19.5 करोड़ लोग रिटायर यानी सेवानिवृत्त की कैटेगरी में खड़े होंगे। ऐसे में सरकार द्वारा ऐसी नीति बनाने की दिशा में प्रयास किया जा रहा है, ताकि कौशल विकास की प्रक्रिया सुचारू रूप से चल सके. इस क्रम में कौशल विकास में असंगठित सेक्टर रिफ्यूजी और ऐसे लोगों को शामिल करने की बात कही जा रही है, जिससे वह किसी स्किल के जरिए अपने काम कि समुचित ट्रेनिंग ले सके, और देश के विकास में सहायक बन कर साल 2050 में भारत के विश्व गुरु होने का सपना साकार कर सकें !Pension scheme: सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला पेंशन योजना में 15,000 वेतन सीमा को किया रद्द

      Sharing Is Love❤️