सुकन्या योजना नए नियम: आज से बदल गए सुकन्या समृद्धि योजना के नियम, अब इन बेटियों को मिलेगा लाभ, जानिए पूरी जानकारी।

SSY Details: सरकार लड़कियों के जन्म से लेकर उनकी पढ़ाई और फिर शादी तक कई योजनाएं चलाती है।इन्हीं योजनाओं में से एक योजना है सुकन्या समृद्धि योजना,जानें इस योजना की गाइडलाइंस के बारे में।

Sukanya Samriddhi Yojana: समय-समय पर देश की महिलाओं और युवतियों के लिए देश की केंद्र और राज्य सरकारें आपको कई तरह की योजनाएं देती हैं।उन योजनाओं के माध्यम से सरकार महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास करती है।ऐसी ही एक छोटी बचत योजना का नाम है सुकन्या समृद्धि योजना।केंद्र की मोदी सरकार द्वारा अनूठी बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह योजना जारी की गई है।सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाकर आप हर महीने एक छोटी राशि जमा कर बच्चियों के भविष्य के लिए एक बड़ा फंड (इन्वेस्टमेंट फॉर गर्ल चाइल्ड) तैयार कर सकते हैं।इस योजना के तहत प्रत्येक खाताधारक को जमा पर 7.6 प्रतिशत ब्याज दर मिलती है।(Sukanya Samriddhi Yojana Rate of Interest) मिलता है।

Sukanya Samriddhi Yojana: भारत सरकार की वीडियो को लेकर बड़ी योजना, मिनिमम डिपॉजिट पर मिलेगा बड़ा लाभ ।

7th Pay Commission: सरकारी कर्मचारियों को लगने वाला है झटका, सरकार ने कहा- नहीं मिलेगा 18 महीने का DA एरियर।

जानें सुकन्या समृद्धि योजना के डिटेल्स

इस योजना के तहत आप हर वित्त वर्ष में 250 रुपये से लेकर 1.50 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं।यह योजना वर्ष 2015 में मोदी सरकार के माध्यम से शुरू की गई है।इस योजना के तहत आप दस साल तक की बच्ची के लिए खाता खोल सकते हैं।यह खाता आप वित्तीय संस्थान या किसी डाकघर में खुलवा सकते हैं।इस योजना के तहत किसी भी निवेशक को कुल 14 साल के लिए सबसे ज्यादा निवेश प्रतिबंध मिलता है।इसके बाद बच्ची की उम्र 18 वर्ष पूरी होने पर वह खाते में जमा राशि का 50 प्रतिशत खुद निकाल लेगी।वहीं, अंतिम राशि 21 साल की उम्र के बाद निकाली जा सकती है।ध्यान रहे कि सुकन्या समृद्धि योजना के खाते (SSY Account) में जमा रकम को निकालने का अधिकार बेटी को है.18 साल में वह अपनी पढ़ाई के लिए और 21 साल बाद अपनी शादी के खर्च के लिए खाते में जमा पूरे पैसे निकाल लेगी।

EPFO: इस तरह घर बैठे चेक करें पीएफ खाते का बैलेंस, जानें UAN नंबर एक्टिवेट करने का प्रोसेस।

PM Kisan New Update 2023 : नए साल से पहले किसानों के लिए नया अपडेट ! इस दिन खाते में आएंगे 13वीं किस्त के पैसे !

तीसरी बेटी का SSY खाता खोलने के लिए पूरी करनी होगी यह शर्त

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत माता और पिता को अपनी बेटियों में बड़ी बेटी के लिए ऋण खोलने की अनुमति है।ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर तीसरी बच्ची को सुकन्या समृद्धि खाता खोलने की अनुमति किस स्थिति में मिलती है?अगर किसी के पहले बच्चे में बेटी है और दूसरी बार में दोहरी लड़कियां पैदा होती हैं तो ऐसी स्थिति में सरकार तीनों महिलाओं को सुकन्या समृद्धि खाता खोलने की अनुमति देती है।ऐसे में माता-पिता तीनों महिलाओं के नाम पर सुकन्या समृद्धि खाता शुरू कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।लेकिन इस योजना के नीचे जो बात बताई जानी है वह यह है कि तीनों बेटियों के खाते में आयकर छूट का लाभ दिया गया है।

जानें कितना मिलता है रिटर्न-

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत आपको 7.6 फीसदी ब्याज दर मिलती है।इस योजना में, यदि आप कन्या के जन्म के बाद लगातार 14 वर्षों तक अधिकतम 1.50 लाख रुपये का निवेश करते हैं, तो आपको खाते में हर महीने 12,500 रुपये का भुगतान करना होगा।इसके बाद आपकी कुल निवेश राशि 22.50 लाख रुपये हो सकती है, जो कि बेटी के 21 साल बाद 63.65 लाख रुपये हो जाती है।इसमें आपको ओवरऑल हॉबी का गेन 41.15 लाख रुपये मिलेगा।यह आपकी निवेश राशि का लगभग 3 गुना हो सकता है।