Thu. Sep 22nd, 2022

Sukanya Samriddhi Yojna: अगर आप भी अपनी बेटी के फ्यूचर प्लानिंग के बारे में सोच रहे हैं तो इस खबर को अंत तक जरूर पढ़ें। दरअसल, सरकार बेटियों के उज्जवल भविष्य के लिए आर्थिक सहायता दे रही है। हम बात कर रहे हैं केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना की। यह योजना साल 2015 में शुरू की गई थी। अगर आपकी बेटी की उम्र 10 साल या उससे कम है तो आप किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता खोलकर इस योजना के तहत बचत कर सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना FD और PPF जैसी योजनाओं की तुलना में अधिक ब्याज प्रदान करती है।

बैंक एफडी से ज्यादा देता है रिटर्न

Bank gives more returns than FD:आपको बता दें कि सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निवेशकों को 7.6 फीसदी का रिटर्न मिलता है, जो कि ज्यादातर बैंक एफडी से बेहतर है। ज्यादातर बैंक लंबी अवधि की एफडी पर 6 फीसदी तक का ब्याज दे रहे हैं। ऐसे में इसमें निवेश करके आप बच्चियों के 21 साल की होने पर 65 लाख रुपये तक का फंड जुटा सकते हैं. सरकार ने इस योजना में कुछ अहम बदलाव किए हैं ताकि समाज के हर वर्ग को इस योजना का लाभ मिल सके. और बेटियां अधिक से अधिक सशक्त बन सकती हैं।

Sukanya Samriddhi Yojna

Sukanya Samriddhi Yojana : हर महीने महज इतने पैसे का करें निवेश, आपकी बेटी को मिलेंगे 65 लाख रूपए

अब तीन बेटियों के लिए कर पाएंगे निवेश

You will be able to invest for three daughters :सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना में कुछ बड़े बदलाव किए हैं, जिसके बाद अब माता-पिता अपनी तीन बेटियों के लिए इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। नियम के मुताबिक पहले आप इस योजना में केवल दो बेटियों के लिए निवेश कर सकते थे, लेकिन अब आप तीन बेटियों के लिए भी इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं। अगर आपकी दूसरी बार में दो जुड़वां बेटियां हैं तो आप इस योजना के तहत तीसरी बेटी के नाम भी खाता खुलवा सकते हैं।

Sukanya Samriddhi Yojana : आपको हर दिन बचाने होंगे 416 रूपए, आपकी बेटी को मिलेंगे लाखों रूपए

मिलता है टैक्स छूट का लाभ

benefit :इस योजना को बेहतर बनाने के लिए 80सी (आयकर छूट) को चालू करें। सक्षम होने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम होने के लिए। इस योजना के तहत आप एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 250 रुपये प्रति वर्ष और अधिकतम 1.5 लाख रुपये का निवेश कर सकते हैं।इसके साथ ही जो लोग एक साल में इस योजना में कम से कम 250 रुपये का निवेश नहीं करते हैं, उनके खाते को डिफॉल्ट माना जाता है। पहले ऐसे खाते पर ब्याज रुकता था, लेकिन अब नियमों में बदलाव के बाद डिफॉल्ट खाते में जमा राशि पर ब्याज मिलता रहेगा।

सुकन्या समृद्धि योजना Update 2022: इस योजना में निवेश पर मिल रहा छप्परफाड़ फायदा,फटाफट उठाएं लाभ, ऐसे करें आवेदन

खाता बंद करने के नियम में बदलाव

Change in account closure rule :बता दें कि इस योजना के तहत पहले अगर बच्चियों की मौत हो जाती थी तो खाता बंद करने की इजाजत थी, लेकिन अब इसमें बदलाव कर दिया गया है. अगर किसी खाताधारक को जानलेवा बीमारी हो जाती है तो वह खाते से पैसे निकाल सकता है। वहीं, माता-पिता की मृत्यु की स्थिति में आपको खाता बंद करने की सुविधा भी मिलती है।

वर्तमान परिपेक्ष्य में चर्चा का कारण(Latest Update on Sukanya Scheme)

By Harshit Mishra

Harshit Mishra is working for UPPR for 2 Years as Product Manager.Harshit is a content industry professional with 2+ years of experience in education and career development. He's a graduate in BCA. Currently, He is Working as Product Manager at UPPR i.e Uppoliceresults.co.in

Leave a Reply

Your email address will not be published.