Telangana Dalit Bandhu Scheme : सरकार ऐसे लोगों को देगी 10 लाख रूपए की राशि, जानिए क्या है योजना

Telangana Dalit Bandhu Scheme : दलितों को सशक्त बनाने के लिए केंद्र सरकार (Central Government) और राज्य सरकार (State Government) दोनों विभिन्न प्रकार की योजनाओं (Scheme) को संचालित करती हैं। इन योजनाओं के माध्यम से दलितों को विभिन्न प्रकार के वित्तीय प्रोत्साहन प्रदान किए जाते हैं। हाल ही में तेलंगाना सरकार (Telangana Government) ने भी तेलंगाना दलित बंधु योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से दलितों को स्वरोजगार प्रदान करने के लिए वित्तीय प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।

तेलंगाना सरकार ने शुरू की योजना

तेलंगाना सरकार ने तेलंगाना दलित बंधु योजना शुरू की है। यह मूल रूप से दलित परिवारों को सशक्त बनाने और उनमें उद्यमिता को सक्षम करने के लिए एक कल्याणकारी योजना है। इसके जरिए सरकार प्रति परिवार 10 लाख रूपए की राशि ट्रांसफर करने जा रही है। यह योजना देश की सबसे बड़ी नकद हस्तांतरण योजना होने जा रही है। इस योजना पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री द्वारा निर्वाचित दलित प्रतिनिधियों और नेताओं के साथ बैठक की गई।

इस बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया कि योजना के तहत राज्य के 119 विधानसभा क्षेत्रों के 11900 परिवारों में 100-100 का चयन किया जाएगा। परिवारों को अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए बिना किसी बैंक गारंटी के 10 लाख रूपए की नकद सहायता मिलेगी। इस योजना को लागू करने के लिए सरकार ने 1200 करोड़ रूपए का बजट आवंटित किया है। यह योजना हुजूराबाद विधानसभा क्षेत्र में पायलट आधार पर लागू की जाएगी।

हुजुराबाद में इस योजना के क्रियान्वयन के अनुभव के आधार पर यह योजना चरणबद्ध तरीके से पूरे राज्य में लागू की जाएगी। 14 अप्रैल 2022 को हैदराबाद के अंबेडकर स्टेडियम में एक समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में बीसी कल्याण और नागरिक आपूर्ति राज्य मंत्री गंगुला कमलाकर ने तेलंगाना दलित बंधु योजना के तहत दलितों को वाहन वितरित किए। लाभार्थियों को लगभग 769 वाहन प्राप्त हुए हैं जिनकी कुल कीमत 94.84 करोड़ रुपये है।

यह योजना राज्य में दलितों की आर्थिक स्थिति को बढ़ावा देने के लिए तेलंगाना के मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई है। इसके अलावा राज्य में दलितों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए कई अन्य योजनाएं भी चलाई जा रही हैं।

तेलंगाना दलित बंधु योजना के लाभ और विशेषताएं

  1. तेलंगाना सरकार ने तेलंगाना दलित बंधु योजना शुरू की है।
  2. यह मूल रूप से दलित परिवारों को सशक्त बनाने और उनमें उद्यमिता को सक्षम बनाने के लिए एक कल्याणकारी योजना है।
  3. इस सीन के जरिए सरकार प्रति परिवार 10 लाख रुपये की राशि ट्रांसफर करने जा रही है।
  4. यह योजना देश की सबसे बड़ी नकद हस्तांतरण योजना होने जा रही है।
  5. इस योजना पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री ने निर्वाचित दलित प्रतिनिधियों और नेताओं के साथ एक बैठक की है।
  6. दलित उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए सरकार उन क्षेत्रों में भी आरक्षण की व्यवस्था शुरू करेगी जहां सरकार लाइसेंस जारी करती है।
  7. सरकार दलितों को शराब की दुकानों, मेडिकल दुकानों, खाद की दुकानों, चावल मिलों आदि के लाइसेंस जारी करने में आरक्षण देने जा रही है.
  8. मौद्रिक सहायता के अलावा सरकार ने एक कोष बनाने की भी योजना बनाई है जिसे किसी भी प्रतिकूल स्थिति में लाभार्थी को समर्थन देने के लिए स्थायी रूप से दलित सुरक्षा कोष कहा जाएगा।
  9. इस फंड का प्रबंधन जिला कलेक्टर करेंगे।
  10. लाभार्थी को इस फंड के लिए न्यूनतम राशि जमा करना आवश्यक है।
  11. सरकार इलेक्ट्रॉनिक चिप वाला एक पहचान पत्र भी जारी करने जा रही है जो सरकार को योजना की प्रगति की निगरानी में मदद करेगा।

पात्रता तथा आवश्यक दस्तावेज

  1. आवेदक तेलंगाना का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  2. आवेदक दलित समुदाय से संबंधित होना चाहिए।
  3. आधार कार्ड
  4. जाति प्रमाण पत्र
  5. आवास प्रमाण पत्र
  6. पासपोर्ट साइज की फोटो
  7. ई-मेल आईडी
  8. मोबाइल नंबर
  9. राशन कार्ड

आवेदन करने की प्रक्रिया

सरकार ने हाल ही में तेलंगाना दलित बंधु योजना की घोषणा की है। जल्द ही सरकार एक आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च करने जा रही है। इस आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से लाभार्थी इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं। सरकार जैसे ही एक आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च करेगी आपको इसकी जानकारी उपलब्ध करवा दी जाएगी।

Leave a Comment