Union Budget 2023 : बजट में पीपीएफ निवेशकों को मिल सकती है खुशखबरी ! ₹3 लाख तक बढ़ जाएगी पीपीएफ लिमिट,पढ़िए खबर !

Union Budget 2023 :– 1 फरवरी 2023 को पेश किए जाने वाले आम बजट में पब्लिक प्रोविडेंट फंड में निवेश की लिमिट को बढ़ाकर डेढ़ लाख से 300000 कर दिया जाएगा.यह सिफारिश इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया यानी आईसीएआई ने बजट प्रस्ताव से पहले रखी है,एक तरफ जहां लोगों के सामाजिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सरकार की ओर से पब्लिक प्रोविडेंट फंड यानी PPF की स्कीम चलाई जाती है, ताकि सरकार की ओर से लोगों को बचत करने तथा निवेश करने का एक साथ दोहरा मौका दिया जा सके, ऐसे में आपको बता दे कि इस स्कीम में अर्जित हुए पैसों पर कोई टैक्स नहीं लगता ! अता अतः आप कैसे इस स्कीम के लाभार्थी बन सकते हैं यह जानने के लिए खबर को अंत तक आराम से पढ़ें !

Union Budget 2023

Union Budget 2023
Union Budget 2023

नए साल के आगाज की गूंज जहां हमारे कानों तक पहुंच चुकी है, वही नए साल में केंद्र सरकार की ओर से केंद्रीय बजट भी पेश किया जाएगा, जिसे आजकल आम बजट के नाम से भी जाना जाता है, बता दे कि देश के वित्त मंत्री की ओर से लोकसभा में बजट हर साल अपने तयशुदा समय यानी 11:00 बजे सुबह पेश किया जाता है, वहीं इस बार बजट में कुछ खास स्कीम्स का स्कीम्स का खुलासा होने वाला है, वैसे तो बजट से पहले वित्त मंत्रालय द्वारा बजट को लेकर अलग-अलग सजेशन मांगे जाते हैं, वही इस बार आईसीएआई संस्था द्वारा बजट को अहम बनाने के लिए एक महत्वपूर्ण सजेशन दिया गया है।7th Pay Commission: केंद्र सरकार जल्द देने वाली है कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, नए साल में मिलेगा पेंशन का तोहफा।

जानिए क्या है पीपीएफ स्कीम ?

दरअसल पब्लिक प्रोविडेंट फंड यानी पीपीएफ एक लोकप्रिय लॉन्ग टर्म निवेश का विकल्प है,बता दें कि पीपीएफ खाते का मैच्योरिटी पीरियड 15 साल का होता है,अतः साल भर में इसमें अधिकतम लाख रुपए का निवेश किया जा सकता है, अब देखा जाए तो इस अकाउंट में ब्याज की दरें केंद्रीय सरकार द्वारा समय-समय पर बाजार के उतार-चढ़ाव के आधार पर बढ़ती या घटती रहती है,सबसे खास बात यह है कि इसमें हर साल हर साल ₹300000 तक के निवेश पर टैक्स से छूट मिलती है, इतना ही नहीं पीपीएफ ट्रिपल E यानी exempt exempt exempt वाली कैटेगरी के तहत आता है,अर्थात मैच्योरिटी पर जो पैसा मिलता है वह भी टैक्स फ्री होता है।PPF: मात्र ₹5000 महीने में आप भी पा सकते हैं 1 करोड़ रुपए तक का लाभ, जानिए पूरी योजना!

जानिए क्यों हो रही है पीपीएफ की सीमा बढ़ाने की मांग ?

दरअसल इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया यानी आईसीएआई ने सरकार को बजट मेमोरेंडम 2023 सौंप दिया है, इसमें आईसीएआई के जरिए सरकार के कार्यकारी अंग को कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं,जिसमें सुझाव एक सुझाव पब्लिक प्रोविडेंट फंड यानी से जुड़ा है, उन्होंने पीपीएफ में निवेश की सीमा बढ़ाए जाने की मांग की है। देखना दिलचस्प होगा कि सरकार बजट सत्र के दौरान इस पर क्या पासा फेकती हैं?PPF Accidental Plan 2022-23 : आप की मौत के बाद आपके पीपीएफ अकाउंट का क्या होगा हस्र, जानिए आज के पोस्ट में !

Note :- दरअसल पीपीएफ में निवेश कोई स्टूडेंट भी कर सकता है,क्योंकि न्यूनतम ₹500 और अधिकतम ₹1.5 lakh की रकम प्रति साल इसमें कराई जाती हैं,लेकिन याद रहे पीपीएफ अकाउंट हिंदू अविभाजित परिवार और द्वारा नहीं खोला जा सकता !

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों, आपको आज का आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा,ऐसे ही फाइनेंस से संबंधित ट्रेंडिंग आर्टिकल्स के लिए हमारी वेबसाइट को लगातार विजिट करते रहे, और अपने प्यारे प्यारे प्रश्न हमें कमेंट के जरिए लिखना ना भूले.धन्यवाद !PPF Investment Limit: बजट से पहले पीपीएफ खाताधारकों के लिए खुशखबरी! लाखो का निवेश कर पाएंगे।