VPF Full Details 2022 : ऐसे करें वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड में निवेश, इतना मिलेगा फायदा !

VPF Full Details 2022 :- क्योंकि VPF में निवेश करने के तरीके प्रोविडेंट फंड में निवेश करने के तरीके से बिल्कुल अलग है,ऐसे में पीएफ के पैसे में निवेश करने का यह लाज़वाब तरीका आपकी सैलरी का 12-12% हिस्सा पीएफ में हर महीने जमा कराने का एक उचित प्रावधान है, बताते चलें दोस्तों अगर आप चाहें तो अपने पीएफ फंड के कंट्रीब्यूशन को भी बढ़ा सकते हैं, क्योंकि यह सुविधा आपको वॉलंटरी रिटायरमेंट फंड के जरिए सरकारी सुविधाओं के समुचित लाभ उठाने का एक उचित तरीका हैं. खबर को ठीक से समझने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

VPF Full Details 2022

VPF Full Details 2022
VPF Full Details 2022

नौकरी पेशा के लिए प्रोविडेंट फंड काफी काम का है लेकिन इसमें कर्मचारी अपनी सैलरी से हर महीने एक छोटा हिस्सा निवेश करते हैं.वही एंप्लॉयर द्वारा भी उतना ही हिस्सा कर्मचारी के खाते में जमा किया जाता है लेकिन एक ऑप्शन और भी है जिसमें प्रोविडेंट फंड के जरिए डबल फायदा लिया जा सकता है.चुकी वॉलंटरी प्रोविडेंट फंड एक तरह से प्रोविडेंट फंड ही है लेकिन इसके नियम लिमिट और शर्तें पीएफ अलग है.अगर कर्मचारी चाहे तो बेसिक सैलरी का 100% हिस्सा वीपीएस में जमा करवा सकता है, चलिए अब आपको बीपीएफ के फायदे साथ ही साथ धन निकासी के तरीके से रूबरू करवाएं !EPFO: इस तरह घर बैठे चेक करें पीएफ खाते का बैलेंस, जानें UAN नंबर एक्टिवेट करने का प्रोसेस।

यह रहे वीपीएफ में जमा करने के फायदे !

जैसा कि अब तक आप यह जान चुके होंगे, कि पीपीएफ में निवेश करने पर बहुत तेरी फायदों का लाभ मिलता है, वर्तमान में ईपीएफ पर 8.10 प्रतिशत की दर से कंपाउंडिंग इंटरेस्ट यानी चक्रवृद्धि ब्याज का लाभ मिलता है,साथ ही साथ अगर इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत टैक्स में छूट का प्रावधान किया गया है, इस फंड में आप चालू वित्त वर्ष के दौरान 1.50 लाख रुपए तक टैक्स में रिबेट का दावा ठोंक सकते हैं,ऐसे में अगर आप ईपीएफ के साथ वीपीएफ में भी योगदान करते चले तो कुछ ही समय अंतराल के पश्चात आपके खाते में एक अच्छा खासा मोटी रकम का अमाउंट देखने को मिलेगा।EPFO SSA Benefits 2023 : छटनी के बीच विदेश में काम कर रहे भारतीय जान ले,ईपीएफओ एसएसए को मिलने जा रहे हैं,ये फायदे !

कम से कम 5 साल तक करें निवेश !

अगर आप अपनी कमाई में बचत के लिए वीपीएस का विकल्प चुनते हैं तब आपको बता दें कि आप को कम से कम 5 सालों तक लगातार पैसे का कंट्रीब्यूशन विप अकाउंट में जारी रखना होगा.क्योंकि इसका लॉक इन पीरियड मिनिमम 5 साल का है अतः 5 साल के नौकरी पूरी होने के पश्चात ही किए जाने वाले विड्रॉल पर किसी प्रकार के टैक्स की अदायगी नहीं की जाएगी.लेकिन एक बात आपके लिए साफ कर दे,EPFO New Guidelines 2023 : अब रिजेक्ट नहीं होगा आपका पीएफ क्लेम, जानिए क्या है इपीएफ के नए नियम ?

कि आपको इस निवेश पर लगने वाले टैक्स स्लैब के हिसाब से टैक्स की अदायगी करनी पड़ेगी,चुकी पीपीएफ अकाउंट को भी ईपीएफ की तरफ से ही ट्रांसफर किया जाता है, अतः किसी प्रकार के रियायत की उम्मीद ना रखें।PF Interest: PF खाताधारकों के लिए मिली बड़ी खबर, इस दिन आएगा ब्याज का पैसा! EPFO ने ट्वीट कर दी जानकारी।

Conclusion :- उम्मीद करते हैं दोस्तों आपको आज का आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा, ऐसे ही सरकारी बीमा संस्थाओं से संबंधित ट्रेंडिंग आर्टिकल्स के लिए हमारी वेबसाइट को लगातार विजिट करते रहे, और अपने प्यारे प्यारे प्रश्न हमें कमेंट के जरिए लिखना ना भूलें.धन्यवाद !