Vriddha Pension KYC : ऐसे लोगों को नहीं मिलेगा वृद्धा पेंशन का लाभ, समय रहते जल्द करें ये काम

Vriddha Pension KYC : सरकार (Government) देश के नागरिकों के जीवन को सुखी और सुरक्षित बनाने के लिए विभिन्न प्रकार की पेंशन (Pension) प्रदान करती है। जिससे देश के नागरिकों को काफी मदद मिलती है। इसी प्रकार सरकार देश के नागरिकों को वृद्धा पेंशन (Vriddha Pension) भी प्रदान करती है। सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि सरकार ने किसी भी पेंशन के लिए KYC अनिवार्य कर दिया है।

जल्द पूरी करें KYC प्रक्रिया

यदि किसी भी व्यक्ति ने अपनी KYC प्रक्रिया पूरी नहीं की है तो उसको आगे मिलने वाली किस्त नहीं प्राप्त होगी। दरअसल सरकार जरूरत पड़ने पर समय-समय पर अपने नियमों में बदलाव करती रहती है। इसी प्रकार सरकार ने नागरिकों के लिए किसी भी पेंशन का लाभ लेने हेतु KYC अनिवार्य कर दिया है। वृद्धा पेंशन का लाभ लेने के लिए भी अब KYC की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। इसके लिए आपको अपने आधार का सत्यापन करवाना होगा।

घर बैठे कर सकते हैं KYC

यदि आपके पास लैपटॉप की सुविधा उपलब्ध है तो आप बिना इधर-उधर भटके घर बैठकर अपने KYC की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं। आप चाहें तो अपने नजदीकी CSC पर जाकर भी वृद्धा पेंशन के लिए KYC करवा सकते हैं। बताते चलें कि यदि आपने अप्रैल तक KYC की प्रक्रिया पूरी नहीं की तो आपकी अगली किस्त रोक दी जाएगी। अर्थात् आपके खाते में पेंशन की राशि नहीं भेजी जाएगी।

गौरतलब है कि सरकार 60 वर्ष से अधिक उम्र के गरीब व्यक्तियों को वृद्धा पेंशन का लाभ देती है। इस पेंशन के सहारे गरीब और असहाय व्यक्ति अपना जीवन यापन करते हैं। ध्यान रहे कि वृद्धा पेंशन के लिए KYC करते समय आपके पास रजिस्ट्रेशन नंबर या वृद्धा पेंशन नंबर होना आवश्यक है। अब आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि अभी तक तो बड़े आराम से पेंशन मिल रही थी तो फिर अचानक सरकार ने KYC का निर्णय क्यों लिया?

आपको बता दें कि कई ऐसे लाभार्थी हैं जिनको वृद्धा पेंशन के अलावा भी कई पेंशन का लाभ मिल रहा था। उनमें से न जाने कितने लोगों की मृत्यु हो गई। इसके बावजूद उनके खाते में यह राशि भेजी जा रही थी। इसके चलते सरकार पर अतिरिक्त लोड बढ़ता ही जा रहा था। इसीलिए सरकार ने यह निर्णय लिया कि जिन लोगों को अभी तक पेंशन का लाभ दिया जा रहा था लेकिन अब वो जीवित नहीं हैं तो उनको यह लाभ नहीं दिया जाएगा।

वहीं जो लोग अभी जीवित हैं और पेंशन का लाभ ले रहे हैं उनको KYC की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। जिससे कि सरकार को भी यह पता चलता रहेगा कि जिसको सहारा देने के लिए पैसा भेजा जा रहा है वो जीवित है भी या नहीं। इसके लिए पहले तो आपको आधार सत्यापन करवाना होगा। जिससे कि पेंशन का लाभ सही व्यक्ति को ही प्राप्त हो सके।

ऐसे खोजें वृद्धा पेंशन KYC रजिस्ट्रेशन नंबर

वृद्धा पेंशन के लिए KYC करवाने हेतु वृद्धा पेंशन का नंबर या फिर रजिस्ट्रेशन नंबर की आवश्यकता पड़ती है। यदि आप अपना रजिस्ट्रेशन नंबर भूल गए हैं तो नीचे बताए जा रहे निर्देशों का पालन करके आप इसे पुन: प्राप्त कर सकते हैं।

  1. सबसे पहले आपको एकीकृत सामाजिक पेंशन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट sspy-up.gov.in पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  3. यहां आपको पेंशन आवेदक लॉग-इन पर क्लिक करना है।
  4. यदि आप पुराने पेंशन धारक हैं तो आप रजिस्ट्रेशन नंबर तथा रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के माध्यम से लॉग-इन कर सकते हैं।
  5. अब पुराने पेंशन धारक को रजिस्टर्ड आईडी निकालने हेतु Important Links में दिए गए रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त करने के लिए विकल्प को चुनना होगा।
  6. अब लिंक पर क्लिक करते ही आपके समक्ष एक नया पेज ओपन हो जाएगा।
  7. अब आप अपना अकाउंट नंबर दर्ज करें।
  8. अकाउंट नंबर दर्ज करने के बाद अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  9. अब कैप्चा कोड भरकर सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  10. सबमिट बटन पर क्लिक करते ही आपको रजिस्ट्रेशन नंबर दिखाई देने लगेगा।
  11. अब इस नंबर को कहीं सुरक्षित जगह पर लिख लें।

ऐसे जोड़ें वृद्धा पेंशन में अपना मोबाइल नंबर

अपने वृद्धा पेंशन को KYC करने के लिए आपको अपना मोबाइल नंबर भी जोड़ना पड़ेगा। इसलिए आपके पास एक मोबाइल होना अति आवश्यक है क्योंकि उसी पर आपको एक OTP भेजा जाएगा। जिसको दर्ज करने के बाद ही KYC प्रक्रिया पूरी हो पाएगी।

  1. सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट sspy-up.gov.in पर जाना होगा।
  2. अब आप जिस पेंशन से अपना मोबाइल नंबर जोड़ना चाहते हैं उसका नाम चुनें।
  3. अब आवेदक लॉग-इन पर क्लिक करें।
  4. पहले से रजिस्टर्ड आवेदक अपना मोबाइल नंबर दर्ज करने के लिए दिए गए इम्पोर्टेंट लिंक पर क्लिक करें।
  5. अब नए पेज पर पेंशन का नाम, बैंक अकाउंट नंबर तथा नए मोबाइल नंबर की जानकारी पूछी जाएगी।
  6. आप जो भी मोबाइल नंबर दर्ज करेंगे उस पर एक OTP भेजा जाएगा।
  7. अब OTP को पूछे गए स्थान में दर्ज करें।
  8. इस प्रकार सफलता पूर्वक आपका मोबाइल नंबर जुड़ जाएगा।

ऐसे करें वृद्धा पेंशन KYC

  1. सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब अपने पेंशन का नाम सेलेक्ट करें।
  3. अब आपको आवेदक लॉगइन पर क्लिक करना है।
  4. अब अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर तथा रजिस्ट्रेशन आईडी दर्ज करें।
  5. अब आपको एक OTP प्राप्त होगा जिसे उचित स्थान पर दर्ज करें।
  6. अब लॉगइन पर क्लिक करें।
  7. अकाउंट से लॉगइन होते ही अपना आधार कार्ड सत्यापित करें।
  8. सत्यापन होते ही आपका KYC पूरा हो जाएगा।

Leave a Comment