Menu Close

Wheat Farmer :  गेहूं किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, इतने रूपए बढ़ा समर्थन मूल्य

Wheat Farmer :  गेहूं किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, इतने रूपए बढ़ा समर्थन मूल्य

Wheat Farmer : गेहूं किसानों (Wheat Farmer) के लिए एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है। विगत वर्ष की तुलना में इस वर्ष गेहूं का समर्थन मूल्य (Supportive Value) 40 रूपए प्रति क्विंटल तक बढ़ा दिया गया है। हांलाकि विगत वर्ष की बात करें तो यह समर्थन मूल्य (Supportive Value) 1975 रूपए ही था। लेकिन इस बार इस समर्थन मूल्य को बढ़ाकर 2015 रूपए प्रति क्विंटल कर दिया गया है। जिससे किसानों में खुशी का माहौल है।

पहले विपणन विभाग की वेबसाइट पर करना होगा पंजीकरण

बताते चलें कि किसानों को अपने उत्पाद का विक्रय करने के लिए पहले विपणन विभाग की वेबसाइट पर पंजीकरण करवाना होगा। इसके बाद ही किसान अपना उत्पाद बेच सकेंगे। हांलाकि इसके लिए पंजीकरण कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है। किसान अपना रजिस्ट्रेशन करवाकर इसका लाभ ले सकते हैं। वहीं अब गेहूं का समर्थन मूल्य भी 40 रूपए प्रति क्विंटल बढ़ा दिया गया है।

जिला विपणन अधिकारी ने दी जानकारी

जिला विपणन अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा है कि किसानों को अपना पंजीकरण करवाते समय खसरा, जोतबही, आधार कार्ड, भूमि/फसल का रकबा, अपनी पासपोर्ट साइज की फोटो तथा अपना मोबाइल नंबर दर्ज करवाना होगा। इतना करने के बाद ही उनका पंजीकरण हो पाएगा। जिला विपणन अधिकारी ने ये भी कहा है कि किसानों को अपना बैंक अकाउंट सीबीएस युक्त शाखा में खुलवाना अनिवार्य है।

गेहूं खरीद के लिए जिले में बनाए गए 26 क्रय केंद्र

जिला विपणन अधिकारी ने कहा है कि 100 क्विंटल से अधिक उत्पाद का विक्रय करने वाले किसान का संबंधित एसडीएम के द्वारा ही सत्यापन किया जाएगा। गेहूं के समर्थन मूल्य में 40 रूपए प्रति क्विंटल की वृद्धि होने से किसानों को बहुत राहत मिली है। पिछले वर्ष यह समर्थन मूल्य 1975 रूपए ही था लेकिन इस बार इसे बढ़ाकर 2015 रूपए प्रति क्विंटल तक कर दिया गया है। वहीं ये भी बता दें कि जिले में गेहूं खरीद के लिए कुल 26 क्रय केंद्र का प्रावधान किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.