Year Ender 2022: केंद्र सरकार द्वारा कृषि को प्रोत्साहन देने के लिए बढ़ाए गए बड़े कदम ,जानिए कैसा हो रहा है प्रभाव

Year Ender 2022: कृषि प्रधान देश में आज पढ़े-लिख नौजवान भी एग्री सेक्टर के प्रति आकर्षित हो रहे हैं. वहीं सरकार अलग-अलग योजनाओं और कार्यक्रमों के जरिए लगातार प्रोत्साहित भी कर रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने किसानों की आमदनी बढ़ाने और इस सेक्टर में नई टेक्नोलॉजी लाने की पहल की है. इससे एग्री सेक्टर में एक अलग ही उत्साह का माहौल बना है. 

Year Ender 2022

PM KISAN YOJANA:अब किसानों को 6 नहीं 36 हजार मिलेंगे, बस ऐसे करें अपडेट योजना

प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्र (PMKSK)

Year Ender 2022: मौजूदा गांव, ब्लॉक/उप जिला/तालुक और जिला स्तरीय उर्वरक खुदरा दुकानों को मॉडल उर्वरक खुदरा दुकानों में बदलने का फैसला लिया गया है. 600 प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्र (Pradhan Mantri Kisan Samridhi Kendra) कृषि संबंधी सभी इनपुट और सेवाओं के लिए ‘वन स्टॉप शॉप’ (One Stop Shop) के रूप में काम करने के लिए खोले गए हैं.  IFMS डैशबोर्ड में कंपनियों द्वारा निकाले गए आंकड़ों के अनुसार, अब तक PMKSK में कुल 8343 दुकानें पूरी हो चुकी हैं.

PM Kisan 12 Kist Date: कब आएगी पीएम किसान योजना की 12वीं किस्त?

एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर फंड

New Year 2023: देश में एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर फंड में खाई भरने पर भी केंद्र सरकार ने ध्यान दिया है. इसके लिए सरकार ने 1 लाख करोड़ रुपये का एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर फंड स्थापित किया है. वहीं पशुपालन, मत्स्यपालन सहित कृषि से संबद्ध क्षेत्रों में भी सुधार के लिए अनेक ठोस उपाए किए गए हैं. 

PM Modi Yojna 2022 : शुरू करें अपना व्यवसाय, इस योजना का उठाएं लाभ

कृषि में ड्रोन को मंजूरी

Year Ender 2022: एग्री सेक्टर में टेक्नोलॉजी के महत्व को लेकर सरकार ने कृषि में ड्रोन (Drone) उपयोग को मंजूरी दी है, तो वहीं दूसरी ओर एग्री सेक्टर में जलवायु परिवर्तन के प्रभाव को कम करने के लिए प्राकृतिक और जैविक खेती पर जोर के साथ-साथ सूक्ष्म सिंचाई (Micro Irrigation) के दायरे को बढ़ाया है. 

Government Scheme : किसानों के खाते में सरकार जल्द भेजेगी 7000 रूपए, जल्दी से पूरा करें ये काम

यूरिया सब्सिडी योजना

Year Ender : वर्ष के दौरान उर्वरक विभाग यूरिया सब्सिडी भुगतान के लिए यूरिया सब्सिडी योजना (Urea Subsidy Scheme), पोषक तत्व आधारित सब्सिडी योजना (NBS) और डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) प्रोजेक्ट्स जैसी योजनाओं को लागू कर रहा है, जो उर्वरकों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए पूरे देश में लागू की गई है.